Home > India News > इस दिवाली अयोध्या में दिखेगा अद्भुत नजारा

इस दिवाली अयोध्या में दिखेगा अद्भुत नजारा

लखनऊ: इस बार दीपोत्सव का कार्यक्रम 4, 5, व 6 नवम्बर को होगा। मुख्य कार्यक्रम 6 नवम्बर को होगा। कार्यक्रम को विश्वस्तरीय स्तर का बनाने का निरन्तर प्रयास चल रहा है, इस बार की दीपोत्सव को पूरा विश्व देखेगा एवं इसे स्मरण रखेगा। ये जानकारी देते हुये मण्डलायुक्त मनोज मिश्र व जिलाधिकारी डा0 अनिल कुमार ने बताया कि इस बार के दीपोत्सव कार्यक्रम में स्थानीय, अन्य प्रान्तों तथा विदेशों के कलाकार भाग लेगें। जिलाधिकारी ने आगे बताया कि 04 नवम्बर को अपरान्ह 11 बजे से 12 बजे तक राम की पैड़ी पर भगवान राम सीता स्वरूप प्रतियोगिता का फाइनल राउण्ड होगा, जिसमें प्रथम विजेता को 51 हजार, द्वितीय विजेता को 31 हजार, तृतीय विजेता को 21 हजार तथा 11-11 हजार के पांच सांत्वना पुरस्कार प्रदान किया जायेगा। फाइनल राउण्ड में पहंुचने के लिए प्रतियोगी को 31 अक्टूबर को 11 बजे से 3.00 बजे तक डाॅ0 राम मनोहर लोहिया अवध विश्व विद्यालय के संतकबीर प्रेक्षागृह में आयोजित चयन प्रतियोगिता में भाग लेना होगा।

05 नवम्बर को अयोध्या के विभिन्न स्थानो पर रंगोली प्रतियोगिता का आयोजन होगा, जिसमें प्रथम, द्वितीय व तृतीय पुरस्कार के रूप में 51, 31, 21 हजार रू0 की धनराशि प्रदान की जायेगी तथा 05 प्रतिभागी को 11-11 हजार रू0 का सांत्वना पुरस्कार दिया जायेगा। 04 नवम्बर व 05 नवम्बर को डाॅ0 राम मनोहर लोहिया अवध विश्व विद्यालय प्रेक्षागृह में सायं 6 बजे से 8 बजे तक विभिन्न देशो की विश्व स्तरीय रामलीला का आयोजन होगा।

04 नवम्बर को 30 मिनट श्रीलंका की रामलीला, 30 मिनट लाओस की तथा 90 मिनट रघुबीराः सीता स्वयंवर का आयोजन तथा 05 नवम्बर को अवध विश्व विद्यालय के प्रेक्षागृह में ही 6 बजे से 8.30 बजे तक, 60 मिनट की इंडोनिशिया, 30 मिनट रूस तथा 30 मिनट त्रिनिडाड एवं टोबैगो की रामलीला का आयोजन होगा।

6 नवम्बर को निकलेगी भगवान की भव्य शोभायात्रा सीएम योगी दीप जलाकर करेंगे समारोह का शुभारम्भ अपरान्ह 1.00 बजे से 4.00 बजे तक प्रभु राम की विभिन्न लीलाओं की 15 झांकियां साकेत महाविद्यालय से निकलकर मुख्य कार्यक्रम स्थल रामकथा पार्क पहुंचेगी , जिसमें 11 झांकियों में स्थानीय कलाकार तथा 04 झांकियों में विदेशों से आये रामलीला के कलाकार झांकियों की शोभा बढ़ायेगें। इसमें कोरिया , रूस, लाओस, इंडोनिशिया, त्रिनिडाड और टोबैगो आदि देश के कलाकार शामिल होगें। झांकियों के बीच प्रदेश के 15 लोक कलाकारों के दल के साथ भारत के 15 लोक कलाकारों के दल के साथ लगभग 500 लोक कलाकार अपने प्रस्तुति के साथ झांकियों की शोभा बढ़ायेगें। अपरान्ह 2 बजे क्वीन हो मेमोरियल के निकट कोरिया सांस्कृतिक दल द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति दी जायेगी। अपरान्ह 3.00 बजे रामकथा संग्रहालय में राम बाजार का उद्घाटन होगा, जिसमें अयोध्या शोध संस्थान में हस्त शिल्प प्रदर्शनी, रामायण, रामकथा से सम्बन्धित पुस्तक प्रदर्शनी एवं बिक्री व राम वन गमन मार्ग की प्रदर्शनी।

3.30 से 3.45 बजे क्वीन हो मेमोरियल पार्क के निकट पद्मश्री सुदर्शन पटनायक भुवनेश्वर द्वारा बालू कलाकृति से भगवान राम की कलाकृति होगी आकर्षण का केंद्र सायं 4.00 बजे निकट रामकथा पार्क भगवान श्रीराम सीता का हेलीकाप्टर से अवतरण एवं मुख्यमंत्री द्वारा श्रीराम सीता जी की अगवानी तथा शोभायात्रा/झांकी का अवलोकन तथा प्रतीकात्मक राज्याभिषेक के साथ मुख्यमंत्री का संबोधन सांय 5.35 बजे से 7.15 बजे तक नये घाट तथा राम की पैड़ी पर विविध कार्यक्रम आयोजन एवं दीपो का प्रकाशमय मुख्यमंत्री जी द्वारा विदेशो से रामलीला के क्षेत्र में विशिष्ट योगदान देने वाले जोग जकार्ता में ‘‘पुराविसाता‘‘ संस्था तथा कम्युनिस्ट देश लाओस के नेशनल म्यूजियम में 22 वर्षो से अनवरत रामलीला के मंचन के कलाकारों, रूस की पद्मश्री गेन्नादी पिचनिकोव (रामलीला के राम) की पुत्री सुश्री पिचनिकोव तातन्या मास्को तथा श्रीराम भारती कला केन्द्र नई दिल्ली को सम्मानित किया जायेगा। रात्रि 8 बजे से 10 बजे तक विभिन्न देशों की रामलीला के साथ कोरिया के कृषक डांस की प्रस्तुति होगी ।

@शाश्वत तिवारी

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .