Home > India News > 30 करोड़ खर्च कर बदलेगी नर्मदा जल की पाइप लाइन, मंत्री ने दिया आश्वासन

30 करोड़ खर्च कर बदलेगी नर्मदा जल की पाइप लाइन, मंत्री ने दिया आश्वासन


भोपाल : खंडवा इन दिनों जल संकट से जूझ रहा हैं। खंडवा के लोग पानी नहीं मिलने से बेहद परेशान हैं। जबकि खंडवा में लगभग 160 करोड़ की नर्मदा जल की योजना बन कर तैयार हो चुकी हैं। लेकिन आए दिन योजना में लगे पाइप जगह जगह फुट रहे हैं। खंडवा के लोगों का मानना हैं की योजना में भ्रष्टाचार हुआ हैं। जिसके चलते योजना में गुणवक्ता का मटेरियल उपयोग नहीं हुआ हैं।

ख़राब क्वालटी के मटेरियल का उपयोग होने से यह स्थिति निर्मित हो गई है की जब पाइप लाइन में पानी प्रेसर से छोड़ा जाता है तो वे फूटने लगती हैं। खंडवा के नर्मदा जल का मुद्दा अब भोपाल पहुंच गया हैं। यहाँ कांग्रेस के स्थानीय नेताओं ने नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह से मिलकर खंडवा की समस्या सामने रखी। नगरीय प्रशासन मंत्री ने समस्या से जल्द निजात दिलाने का आश्वासन दिया।

पूर्व संसद और केंद्रीय मंत्री अरुण यादव के नेतृत्व में मंत्रालय में खण्डवा नर्मदा जल योजना को लेकर नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह से मिलने पहुंचे प्रतिनिधि मंडल के साथ कृषि मंत्री सचिन यादव जी भी मौजूद रहे।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक खंडवा निगम आयुक्त हिमांशु सिंह और चीफ इंजिनियर ने पुरे मामले की जानकारी नगरीय प्रशासन मंत्री को दी। बताया जा रहा हैं की जिसतरह की समस्या खंडवा में हो रही है ठीक इसी तरह की समस्या से शिवपुरी भी झुज रहा था। चीफ इंजिनियर ने समस्या का हल बताते हुए सुझाव दिया की शिवपुरी में भी पुरानी पाइप लाइन बदल कर सप्लाई को सुचारु किया गया हैं।

ऐसे ही खंडवा में नर्मदा जल की लगभग 30 किलो मीटर लाइन को बदल कर इस समस्या से निजात पाई जा सकती हैं। जानकारी के अनुसार प्रति एक किलों मीटर पाइप बदलने पर लगभग एक करोड़ रूपये का खर्चा आएगा इस लिहाज से लगभग 30 करोड़ रूपये खर्च कर खंडवा के लोगों को सुचारु रूप से पानी की सप्लाई की जा सकती हैं। जिस से खंडवा में पानी की बड़ी समस्या से बचाया जा सकता हैं।

नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह ने अरुण यादव और कृषि मंत्री सचिन यादव के नेतृत्व में पहुंचे प्रतिनिधि मंडल को आश्वासन दिया कि जल्द ही इस पर कार्य योजना बना कर पाइप लाइन को बदला जायेगा। अरुण यादव ने बताया कि खंडवा में नर्मदा जल की योजना कांग्रेस सरकार के समय उन्होंने ही मंजूर कराई थी। जिसे प्रदेश की तत्कालीन भाजपा सरकार ने भ्रष्टाचार की भेट चढ़ा दिया।

हम लोग लंबे समस्य से योजना में हुए भ्रष्टाचार के जाँच की मांग कर रहे हैं पर हमारी प्रथमिकता यह हैं की पहले पानी की समस्या से लोगों को निजात दिलाए फिर इस योजना में जिस किसी ने भी भ्रष्टाचार किया हैं उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाये।

आज नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह से मिलकत हुई हैं उन्होंने इस जटिल समस्या को सुना और उसके निराकरण का पूरा भरोसा दिया हैं जल्द ही इस समस्या से छुटकारा मिल जायेगा वहीं दोषियों पर कार्यवाही भी होंगी।

इस प्रतिनिधिमंडल में खंडवा शहर कांग्रेस अध्यक्ष इंदल सिंह पवार, नारायण नागर ,अवधेश सिसोदिया, रियाज हुसैन अजय वर्मा, श्याम यादव, सुनील आर्य मौजूद थे।

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com