Bobby Jindalवाशिंगटन – अमेरिकी राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी के रिपब्लिकन दावेदार बॉबी जिंदल ने अब सुप्रीम कोर्ट के जजों पर अपनी नाराजगी जताई है। उन्होंने कहा कि यदि उन्हें मौका मिला तो वह अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट के छह जजों को बाहर निकाल देंगे।

हाल ही में दिए गए समलैंगिक विवाह और ओबामा केयर पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर जिंदल पहले ही विरोध जता चुके हैं। इन फैसलों पर उन्होंने कहा था कि कोर्ट संविधान को मानने के बजाय रायशुमारी से ज्यादा प्रभावित दिखता है।

अखबार वाशिंगटन पोस्ट के मुताबिक, अटलांटा में शुक्रवार को लुसियाना के गवर्नर जिंदल ने कहा कि उनका सुझाव है कि सुप्रीम कोर्ट को बंद कर दिया जाए जिससे देश के पैसे की बचत होगी। उन्होंने कहा कि हिलेरी क्लिंटन सोचेंगी कि यह बहुत ज्यादा है।

इसलिए वह इस पर समझौता करना चाहेंगे कि पूरे सुप्रीम कोर्ट से छुटकारा पाने के बजाय करीब दो तिहाई सुप्रीम कोर्ट से निजात पा लिया जाए। भारतीय मूल के अमेरिकी जिंदल ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के तीन जज सही हैं।

जबकि चीफ जस्टिस जॉन जी. रॉबर्ट्स जूनियर और एंथनी एम. केनेडी समेत छह जजों को वह हटा देना चाहते हैं। रॉबर्ट्स और केनेडी ने ओबामा केयर के पक्ष में फैसला दिया था। केनेडी ने समलैंगिक विवाह फैसले का भी समर्थन किया था। रॉबर्ट्स को बुश और केनेडी को रीगन ने नामित किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here