sushma-lalit-rajeनई दिल्‍ली – संसद का मानसून सत्र आज से शुरू हो गया। राज्यसभा में कार्रवाई शुरू होते ही कांग्रेस के आनंद शर्मा ने बोलना शुरू किया। उन्होंने आईपीएल के पूर्व कमिश्नर ललित मोदी का मामला उठाते हुए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का इस्तीफा मांगा।

सरकार की ओर से अरुण जेटली ने विश्वास दिलाया कि इस पर बहस की जा सकती है। साथ ही सुषमा स्वराज भी अपनी बात रखने को राजी है, लेकिन विपक्षी सदस्य हंगामा करते रहे। इसके बाद कार्रवाई 12 बजे तक स्थगित कर दी गई।

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सदन सकारात्मक कार्यवाही की उम्मीद जताई। मानसून सत्र के पहले दिन संसद पहुंचे नरेंद्र मोदी ने कहा कि 13 अगस्‍त तक मानसून सत्र चलेगा। इससे पहले सोमवार को सर्वदलीय बैठक अच्‍छे माहौल में हुई है।

बीते सत्र में जो काम नहीं हो पाए थे, उन्‍हें पूरा करने के लिए कुछ राजनीतिक दलों ने आश्‍वासन दिया था। ऐसे में उम्‍मीद है कि इस सत्र में कई अच्‍छे काम हो सकेंगे। मोदी ने कहा कि अभी तक जो सहयोग मिला है, उसके लिए सभी सांसदों का आभार व्‍यक्‍त करता हूं।

उन्‍होंने कहा कि उम्‍मीद करता हूं कि आगे भी उनका अच्‍छा सहयोग मिलता रहेगा। हालांकि, ललित गेट और व्यापम घोटाले पर टकराव के बीच हंगामेदार सत्र की आशंका है।

विपक्ष पर जवाबी हमले के लिए सरकार ने एनडीए को साथ रखने की रणनीति बनाई है और किसी का इस्तीफा लेने से इनकार कर दिया है। मोदी के साथ गृह मंत्री राजनाथ सिंह, मुख्‍तार अब्‍बास नकवी और संसदीय कार्य मंत्री वेंकैया नायडू भी उनके साथ मौजूद थे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here