Home > Crime > थानेदार ने किया तीन साल तक छात्रा से रेप, सस्पेंड

थानेदार ने किया तीन साल तक छात्रा से रेप, सस्पेंड

uttar pradesh policeलखनऊ- उत्तर प्रदेश में एक बार फिर वर्दी को दागदार कर देने वाला मामला सामने आया है ! जिसमे एक छात्रा ने वर्दी वाले पर मारपीट करने एवं जबरन रेप करने का आरोप लगाया है ! हालाँकि पुलिस कप्तान ने आरोपी को सस्पेंड कर दिया है !

जहाँ एक तरफ मुख्यमंत्री अखिलेश यादव महिलाओं की सुरक्षा और महिलाओं के सम्मान के लिए योजनाओं को अमल में लाने की जुगत में है ! वहीं यूपी के ही कानपुर पुलिस के एक थानेदार पर छात्रा ने जबरन रेप और मारपीट का आरोप लगाया है ! जिले के कप्तान ने आरोपी थानेदार को सस्पेंड कर दिया है !

पूरे मामले में शादी का झांसा देकर एक छात्रा से नवाबगंज एसओ उदय प्रताप यादव ने तीन साल तक रेप किया और विरोध करने पर थाने बुलाकर अपनी पत्नी, मां और भतीजी के साथ मिलकर बुरी तरह पीटा ! सिर शीशे से लड़ा दिया, जिससे शीशा तक टूट गया ! मामला बिगड़ता देख एसओ छुट्टी लगाकर परिवार साथ फरार हो गए और छात्रा को अपने भतीजे के साथ जबरन भगवा दिया !

मिली जानकारी अनुसार तीन साल पहले उदय प्रताप यादव सचेंडी एसओ थे ! उसी समय लूट की रिपोर्ट लिखाने एक छात्रा थाने पहुंची और थानेदार उदय प्रताप यादव ने दोस्ती कर ली और शादी का झांसा देकर तीन साल तक रेप करता रहा ! थानेदार शादीशुदा है और दो बच्चे हैं ! इसका पता चलते ही छात्रा ने विरोध जताया, इस पर थानेदार ने कहा कि पत्नी को छोड़ देगा !

थानेदार की बातों में आई छात्रा उसके साथ और नजदीकियां बढ़ाई ! होटलों में जाना और छात्रा के हर शौक को पूरा कराने में एसओ लग गए ! एसओ के इस कृत्य में उसके थाने के सिपाही विपिन और खुद को भतीजा बताने वाला बंटी भी शामिल रहा ! छात्रा को पता चला कि एक सप्ताह से उदय की पत्नी उसके साथ रह रही है !

इसी बात की जानकारी पर पीड़िता उदय की पत्नी से मिलने के लिए पहुंची तो उस समय काफी विवाद होने लगा और उसके बाद उसे थाने बुलाया ! थाने पहुंचते ही इंसानियत की सारे हदें पार कर छात्रा को नवाबगंज थाने में दौड़ा-दौड़ाकर एसओ, उसकी पत्नी, मां और भतीजी ने पीटा ! लेकिन थाने में मौजूद दरोगा, सिपाही मूकदर्शक बने देखते रहे. किसी ने बचाया तक नहीं और छात्रा को उल्टा धक्का देकर भगा दिया !

गाजीपुर की रहने वाली बीएससी की छात्रा शहर में रहकर पढ़ाई कर रही है ! छात्रा ने कि उदय शादीशुदा है इसका विरोध किया तो खुद को प्रदेश के मुखिया अखिलेश यादव, सपा के गलियारे में अच्छी पैठ रखने वाले रामगोपाल यादव का रिश्तेदार बता कर मुंह बंद रखने का दबाव बनाया !

फिलहाल एसओ के विरुद्ध महिला थाना में एसएसपी के आदेश पर बलात्कार मारपीट और धमकी देने की धाराओ में मुकदमा दर्ज हो चूका है और एसएसपी ने आरोपी एसओ उदय प्रताप यादव को सस्पेंड कर दिया है !

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com