Home > India News > कानपुर मे पत्रकारों के उत्पीड़न को लेकर सांकेतिक धरना !

कानपुर मे पत्रकारों के उत्पीड़न को लेकर सांकेतिक धरना !

 

kanpur

कानपुर- पत्रकारों पर हमले ,धमकी, जान लेवा हमला और हत्या के खिलाफ विभिन्‍न पत्रकार संगठनों द्वारा आज फूलबाग स्थित गांधी प्रतिमा पर धरना प्रर्दशन किया गया। इस कार्यक्रम में कानपुर, उन्‍नाव, लखनऊ, कन्‍नौज, वाराणसी और फतेहपुर आदि जिलों से आये पत्रकारों ने भाग लिया।

धरने मे में वक्‍ताओं ने जिला प्रशासन और प्रदेश सरकार को चेतावनी देते हुये कहा कि पत्रकारों के खिलाफ हो रही वारदातो पर सख्‍ती से कार्यवाही की जानी चाहिये अन्‍यथा पत्रकार अगले चरण में विधानसभा का घेराव करने को बाध्‍य होगें।

भारतीय ग्रामीण पत्रकार संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष अरुण सिंह चन्देल,राष्ट्रीय सयुक्त मंत्री श्री डी के सिंह ,प्रदेश उपाध्क्ष श्री श्याम सिंह पंवार और आल मीडिया एण्‍ड जर्नलिस्‍ट एसोसिएशन के अध्‍यक्ष श्री आलोक कुमार आदि ने प्रमुख रूप से उपस्थिति दर्ज़ की । वक्ताओं ने कहा नेताओं को यह समझना होगा कि पत्रकार कोई भेड बकरी नहीं हैं कि जब चाहा हांक दिया, कलम की ताकत ने सरकारें बदल दी हैं इसको कम करके आंकने वाला बहुत पछतायेगा।

तारिक आजमी ने अपने वक्‍तव्‍य में कहा कि उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों मे पत्रकारों के उत्पीडन की घटनाएँ निरतर बढती जा रही हैं,यदि सरकार अभी भी नहीं चेती और पत्रकारों के उत्पीडन पर रोक लगाते हुए सुरक्षा मुहैया कराने एवं कडे कानून बनाने की दिशा में कदम नहीं उठाये गये तो प्रदेश के सभी जिलों से पत्रकार सडकों पर उतर कर प्रदर्शन करने को बाध्‍य होगें।

पत्रकारों ने लोक तंत्र के चौथे स्तम्भ के साथ सूबे में हो रही उत्पीडन की घटनाओं पर चिन्ता जताते हुए महामहिम राज्यपाल से पत्रकार उत्पीडन की घटनाओं पर अंकुश लगाने हेतु ऐसे मामलों में आरोपियों पर रासुका लगाने की मांग की। चंदेल ने कहा पत्रकारों के हित के लिये भारतीय ग्रामीण पत्रकार संघ हर समय उपलब्‍ध है।

पत्रकार पुनीत निगम ने कहा कि पत्रकारों का सबसे बड़ा दुश्मन उनका अपना मीडिया संस्‍थान ही है, जिनके दम पर अख़बारों व चैनलों का वजूद है उन्हीं के साथ मीडिया संस्‍थान वक्त आने पर खड़े नहीं होते हैं। और कहा पत्रकारों के उत्‍पीडन के मामलों में नि:शुल्‍क विधिक सहायता उपलब्‍ध है। निगम ने हाल ही में भाजपा प्रदेश अध्‍यक्ष द्वारा पत्रकार आलोक कुमार के खिलाफ दिये वक्‍तव्‍य को निन्‍दनीय बताया।

जन सामना के सम्पादक श्याम सिंह पंवार ने पत्रकारों से कहा कि ऊंच-नीच का भेदभाव खत्म कर सभी संस्थानों को एक जुटता का परिचय देकर भ्रष्टाचारियों पर कलम से प्रहार कर जनता के सामने उन्हें बेनकाब करना चाहिये। उन्होंने सभी लघु संस्थानों से आवाहन किया कि वे निडरता से कार्य करें और पत्रकारों के प्रति दुराभाव रखने वालों के विरुद्ध एक राय होकर अभियान छेड़ दें।

उत्पीड़न व धमकी के शिकार जन सामना के सम्पादक श्याम सिंह पंवार ने पत्रकारों से कहा कि ऊंच-नीच का भेदभाव खत्म कर सभी संस्थानों को एक जुटता का परिचय देकर भ्रष्टाचारियों पर कलम से प्रहार कर जनता के सामने उन्हें बेनकाब करना चाहिये। उन्होंने सभी लघु संस्थानों से आवाहन किया कि वे निडरता से कार्य करें और पत्रकारों के प्रति दुराभाव रखने वालों के विरु एक राय होकर अभियान छेड़ दें।

कार्यक्रम का संचालन जैदी ने व अध्‍यक्षता पुनीत निगम ने की। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से भारतीय ग्रामीण पत्रकार संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष अरुण सिंह चंदेल, राष्ट्रीय सयुक्त मंत्री श्री डी के सिंह ,प्रदेश उपाध्क्ष श्री श्याम सिंह पंवार, अवनीश दीक्षित, आलोक कुमार, आजमी, पुनीत निगम, सुनील साहू, सूरज वर्मा, शीलू शुक्‍ला, आशीष त्रिपाठी, योगेन्‍द्र अग्निहोत्री, नीरज तिवारी, इब्‍ने हसन जैदी, शिव कलवार, श्रवण गुप्‍ता, श्‍याम सिंह पंवार, अजय श्रीवास्‍तव, विजय कुशवाहा, नीरज शर्मा, रत्‍नेश गुप्‍ता, मनीष मिश्रा, विष्‍णू गुप्‍ता, जावेज रजा, ब्रजेश अवस्‍थी, पप्‍पू यादव, राजीव मिश्रा, प्रवीन सिंह, दीपक मिश्रा, बलवन्‍त सिंह आदि पत्रकार उपस्थित थे।

रिपोर्ट :- अरुण सिंह चंदेल

Facebook Comments

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .