गिरफ़्तारी से पहले ताहिर हुसैन ने लगाया कपिल मिश्रा पर फंसाने का आरोप

ताहिस हुसैन ने आगे बढ़कर ये कहा कि वह हर तरह की जांच के लिए तैयार हैं। यहां तक कि वह बोले उनका नारको टेस्ट भी करवाना हो तो वह उसके लिए भी तैयार हैं। उन्होंने ये भी कहा कि उनके घर में सामने की तरफ एक कैमरा भी लगा था, उसकी भी जांच की जानी चाहिए, सच खुद-ब-खुद सामने आ जाएगा।

File photoनई दिल्ली: पिछले दिनों दिल्ली में सीएए के खिलाफ विरोध अचानक से बहुत तेज हो गया और 23 फरवरी रविवार को हिंसा के हालात बन गए। इसके अगले दो दिन दिल्ली के कई हिस्सों में दंगे हुए। इन दंगों में अब तक 45 से भी अधिक लोगों की मौत हो गई है, जबकि करीब 200 लोग घायल हुए हैं। इसी दंगे में चांद बाग इलाके में आईबी कर्मचारी अंकित शर्मा भी मारे गए, जिनकी हत्या का आरोप आम आदमी पार्टी से निलंबित हो चुके ताहिर हुसैन पर लगा। ताहिर हुसैन के खिलाफ तो एफआईआर तक दर्ज हो चुकी है, लेकिन वह फरार चल रहे थे। ताहिर हुसैन ने कोर्ट में सरेंडर करने से पहले उन्होंने एक टीवी चैनल से बातचीत की और कहा कि उनका सब कुछ तबाह हो गया है और वह नारको टेस्ट के लिए भी तैयार हैं। बता दें कि कोर्ट ने सुनवाई से मना करते हुए कहा कि सुनवाई का उनके पास अधिकार नहीं है, जिसके बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

जिस वक्त ताहिर हुसैन कोर्ट में सरेंडर करने जाने से पहले मीडिया से बातचीत कर रहे थे, वह डरे हुए लग रहे थे। उन्होंने खुद भी ये कहा कि वह काफी डरे हुए थे, इसलिए इतने दिनों तक इधर-उधर भागते रहे। लेकिन अब उन पर एक के बाद एक कई आरोप लगाए जा चुके हैं, इसलिए अब उन्होंने सरेंडर करने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली दंगों में उनका सब कुछ तबाह हो गया है।

ताहिस हुसैन ने आगे बढ़कर ये कहा कि वह हर तरह की जांच के लिए तैयार हैं। यहां तक कि वह बोले उनका नारको टेस्ट भी करवाना हो तो वह उसके लिए भी तैयार हैं। उन्होंने ये भी कहा कि उनके घर में सामने की तरफ एक कैमरा भी लगा था, उसकी भी जांच की जानी चाहिए, सच खुद-ब-खुद सामने आ जाएगा।

जब ताहिर हुसैन से पूछा गया कि आखिर उनके घर पर पेट्रोल बम, गुलेल, पत्थर और एसिड कैसे आए तो उन्होंने कहा कि ये सब उन्हें फंसाने की साजिश है। 24 फरवरी को ही वह 11 बजे पुलिस के सामने ही अपने परिवार के साथ घर से चले गए थे, क्योंकि वहां उन्हें खतरा था। उसके बाद दंगाइयों ने उनके घर के साथ क्या किया, ये उन्हें नहीं पता। वह बोले कि भाजपा और पुराने सहयोगी कपिल मिश्रा उन्हें फंसा रहे हैं। उन्होंने ये भी कहा कि घर में सामान कैसे पहुंचा, भीड़ वहां कैसे पहुंची इन सब बातों की जांच होनी चाहिए, सच सामने आ जाएगा।