Home > India > Jayalalithaa passes away: जयललिता का निधन

Jayalalithaa passes away: जयललिता का निधन


चेन्नई : तमिलनाडु की सीएम जे जयललिता का 5 दिसंबर सोमवार को निधन हो गया। एक दिन पूर्व रविवार को उनकी हृदयगति रुक गई थी, जिसके बाद से विशेषज्ञ डॉक्टरों की एक बड़ी टीम उनके इलाज में जुटी हुई थी।

हर संभव कोशिश के बावजूद डॉक्टर उनकी जान नहीं बचा पाए। अपोलो अस्पताल ने सोमवार रात 11.30 बजे उनके निधन की खबर को सार्वजानिक किया अपोलो अस्पताल के अनुसार रात 11.30 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। अपोलो अस्पताल ने प्रेस रिलीज जारी कर उनके निधन की आधिकारिक पुष्टि की।

बीते 77 दिनों से अस्पताल में भर्ती थी
गौरतलब है कि एआईएडीएमके प्रमुख और अम्मा के नाम से लोकप्रिय 68 वर्षीय जयललिता को 22 सितंबर को बुखार और डिहाइड्रेशन की शिकायत पर अस्पताल में भर्ती किया गया था, वो बीते 77 दिनों से अस्पताल में भर्ती कराया गया था । जयललिता के दिल के दौरे की बात सुनकर अस्पताल के बाहर उनके समर्थकों की भीड़ जुट गई थी । लोग अपनी नेता के जल्द स्वस्थ होने के लिए प्रार्थना भी रहे थे ।

तमिलनाडु में ‘अम्मा’ के नाम से प्रचलित जयललिता का नाम देश के उन लोगों में शामिल था जिन्होंने अपने संघर्ष के बल पर हर चीज हासिल की थी। चाहे वो उनकी तालिम हो, फिल्मी सफर हो या फिर तमिलनाडु की सत्ता।

परंपराओं और उसूलों को तोड़कर अपने दम पर रास्ता बनाने वाली जयललिता राजनीति कैनवस में चमकने से पहले फिल्मी कैनवस की मल्लिका थीं। बेहद ही ग्लैमरस अभिनेत्री के रूप में पहचान बनाने वाली जयललिता दक्षिण भारत की पहली हिरोइन थीं जिन्होंने स्कर्ट पहनकर फिल्मों में काम किया था।

उनके खूबसूरत अदायगी और मदमस्त काया की खबर दूसरे राज्यों में पहुंची और जयललिता देखते-देखते ही तमिल के अलावा तेलुगू, कन्नड और हिंदी फिल्मों की पॉपलुर हस्ती बन गईं। 1965 से 1972 के दौरान उन्होंने ज्यादातर फिल्में एमजी रामचंद्रन के साथ की थीं जिसमें वो साड़ी में कम स्कर्ट में ज्यादा नजर आती थीं।

जयललिता ने जहां अपने फिल्मी करियर में सबसे ज्यादा फिल्में एमजी रामचंद्रन के साथ कीं वहीं दूसरी ओर उन्होंने अपना राजनैतिक करियर भी एमजी रामचंद्रन के साथ शुरू किया। और साल 1984 में उन्होंने राजनीति में कदम रखा था और उसके बाद कभी भी उन्होंने जीवन में पीछे मुड़कर नहीं देखा।




Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com