Home > Entertainment > Bollywood > तनु वेड्स मनु रिटर्न्स में कंगना का डबल रोल

तनु वेड्स मनु रिटर्न्स में कंगना का डबल रोल

tanu-manu

कंगना रनौत स्टारर फिल्म ‘तनु वेड्स मनु रिटर्न्स’ में उनका डबल रोल हिट हो गया है। फिल्म ने कमाई भी अच्छी कर ली है। वैसे, फिल्म हिट करवाने के लिए डबल रोल के साथ दमदार स्क्रिप्ट भी चाहिए। पहले भी डबल रोल वाली फिल्में हिट हो चुकी हैं।

इन दिनों कंगना रनौत और आर. माधवन स्टारर फिल्म ‘तनु वेड्स मनु रिटर्न्स’ की चर्चा काफी जोर-शोर से चल रही है। खासकर फिल्म में कंगना द्वारा निभाया गया दोहरा किरदार हर किसी की तारीफें बटोर रहा है। फिल्म में कंगना कुसुम सांगवान उर्फ ‘दत्तो’ और तनुजा ‘तनु’ त्रिवेदी की भूमिका में हैं। ये दोनों ही किरदार एक-दूसरे से काफी अलग हैं।

वहीं, फिल्मों में डबल रोल की शुरुआत 1917 में दादा साहेब फाल्के की साइलेंट फिल्म ‘लंका दहन’ से हुई थी। इसके बाद फिल्मों में डबल रोल का सिलसिला काफी प्रचलित हो गया। बॉलिवुड में दिलीप कुमार की ‘राम और श्याम’, हेमा मालिनी की ‘सीता और गीता’, श्रीदेवी की ‘चालबाज’, अमिताभ बच्चन की सत्ते पर सत्ता’, ‘डॉन’, शारुख खान की ‘डॉन’, नीतू सिंह की ‘दो कलियां’, सलमान खान की जुड़वां, अनिल कपूर की ‘कृष्ण कन्हैया’ काजोल की ‘दुश्मन’, आमिर खान की ‘धूम 3’, जैकलीन की ‘रॉय’ और बिपाशा बसु की ‘अलोन’ और शाहरुख खान की ‘डुप्लिकेट’ जैसी कई फिल्में शामिल हैं, जिन्होंने अपने दर्शकों को एंटरटेनमेंट का डबल डोज दिया है।

बॉलिवुड डायरेक्टर्स मानते हैं कि फिल्मों को हिट करने में स्टार्स का डबल रोल में होना एक बहुत बड़ी वजह हो सकती है। कई बार दर्शक अपने फेवरिट स्टार्स को डबल रोल में देखने के लिए उत्सुक रहते हैं। डबल रोल पर बनने वाली ज्यादातर फिल्में बॉक्स ऑफिस पर हिट साबित हुई हैं। ‘तनु वेड्स मनु रिटर्न्स’ इसका ताजा उदाहरण है। इसकी ओपनिंग बॉक्स ऑफिस पर काफी शानदार रही है।

पहले ही दो दिन में फिल्म ने लगभग 38 करोड़ का बिजनस किया है। आलम यह है कि थिअटर पर यह फिल्म हाउसफुल जा रही है। पिछले दिनों रिलीज हुई सनी लियोनी की ‘एक पहेली लीला’ ने ठीक-ठाक करीब 24 करोड़ का बिजनस किया था। इस फिल्म से पहले आमिर खान अभिनीत ‘धूम 3’ और ‘कृष 3’ ने सफलता के नए रेकॉर्ड बनाए थे।

125 करोड़ की लागत में बनी ‘धूम3’ ने जहां रेकॉर्ड ब्रेक कर 540 करोड़ का बिजनस किया था, वहीं ‘कृष 3’ ने भी लगभग 500 करोड़ का बिजनस किया था। सालों पहले 8 करोड़ के बजट पर बनी फिल्म ‘जुड़वा’ ने तकरीबन 30 करोड़ का मुनाफा करवाया था।

ज्यादातर स्टार्स की ख्वाहिश होती है कि वे अपनी लाइफ में एक बार डबल रोल फिल्म तो जरूर करें। स्क्रीन पर डबल रोल होने की वजह से एक्टर्स को डबल स्क्रीन स्पेस तो मिलता ही है -साथ ही अपना टैलंट दिखाने का मौका भी। ज्यादातर फिल्मों में डबल रोल एक-दूसरे से काफी अलग होते हैं। अगर एक सीधा-सादा है, तो दूसरा उसके विपरीत होता है। एक ही स्क्रीन पर कॉन्ट्रास्ट करैक्टर दिखाना चैलेंजिंग होता है। स्टार्स अपने लुक में भी एक्सपेरिमेंट्स कर पाते हैं।

कंगना की हालिया ‘तनु वेड्स मनु रिटर्न्स’ में चरित्रों का यही कॉन्ट्रास्ट दर्शकों को पसंद आ रहा है। अपने किरदार के बारे में कंगना कहती हैं,’फिल्म करते वक्त काफी मेहनत करनी पड़ी थी। दोहरा किरदार निभाना काफी चैलेंजिंग होता है। शूटिंग के दौरान इस बात पर ध्यान देना होता है कि कहीं एक किरदार दूसरे पर हावी न हो जाए। कई बार शूटिंग के वक्त मुझे लगा दत्तो, तनु पर हावी हो रही है, ऐसे में दोनों के बीच बैलेंस बनाना बहुत बड़ा टास्क था।

‘सीता गीता’ में भी हेमा मालिनी जहां एक तरफ सहमी सी सीता बनी थीं, तो वहीं वे दूसरी ओर दूसरों को सबक सिखाने वाली बोल्ड गीता का भी किरदार बखूबी निभाया था। काजोल की ‘दुश्मन’, श्रीदेवी की ‘चालबाज’, शाहरुख की ‘डुप्लीकेट’ में भी उनके किरदारों में काफी उतार-चढ़ाव देखने को मिलता है।

बिग बी हैं सबसे आगे
बॉलिवुड में सबसे ज्यादा डबल रोल फिल्म करने का खिताब अमिताभ बच्चन को हासिल है। इंडस्ट्री में बिग बी ने अभी तक 11 से ज्यादा फिल्मों में दो या दो से अधिक रोल किए हैं। इसमें सुपरहिट ‘डॉन’ के अलावा ‘देश परदेस’, ‘अदालत’, ‘आखिरी रास्ता’ और ‘महान’ जैसी फिल्में हैं। महानायक के बाद गोविंदा का नंबर आता है। गोविंदा ने भी 10 से ज्यादा फिल्मों में दो या दो से अधिक रोल किए हैं। ‘हद कर दी आपने’ में तो गोविंदा ने एक साथ 6 रोल किए थे। उनकी डबल रोलवाली ‘आंखें’, ‘बड़े मियां छोटे मियां’, ‘अनाड़ी नंबर वन’ जैसी फिल्में काफी सफल रहीं। इसके अलावा, बॉलिवुड के खिलाड़ी अक्षय कुमार ‘अफलातून’, ‘राउडी राठौर’ और सलमान खान 4 फिल्मों में डबल रोल कर चुके हैं। साथ ही अनिल कपूर, जैकी श्रॉफ, अजय देवगन और रितिक रोशन सहित कई अन्य स्टार्स ने भी डबल रोल वाली फिल्में की हैं।

डबल रोल वाली फिल्में पूरी तरह प्रजंटेशन और बेहतरीन स्क्रिप्ट पर निर्भर होती है। कई बार कहानी में चूक हो जाए, तो फिल्म का मजा किरकिरा हो जाता है। कुछ महीने पहले आई विपाशा बसु की फिल्म ‘अलोन’ कमजोर कहानी और उनकी नीरस प्रजंटेशन की वजह से पिट गई थी। इसके अलावा, सैफ अली खान की ‘हमशक्ल्स’ जैसी डबल रोल वाली फिल्म को भी दर्शकों ने नकार दिया था।

‘फिल्म करते वक्त काफी मेहनत करनी पड़ी थी। दोहरा किरदार निभाना काफी चैलेंजिंग होता है। शूटिंग के दौरान इस बात पर ध्यान देना होता है कि कहीं एक किरदार दूसरे पर हावी न हो जाए। एजेंसी

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com