मक्का : शुक्रवार को इस्लाम के सबसे पवित्र शहर मक्का में एक आत्मघाती हमले में पांच सुरक्षाकर्मी और छह विदेशी तीर्थयात्री घायल हो गए। सऊदी अरब के गृहमंत्रालय ने इस घटना की जानकारी दी है। यह घटना मक्का की बड़ी मस्जिद के पास हुई। उस समय हज़ारों तीर्थयात्री मस्जिद में रमजान के अलविदा जुमे की नमाज अता करने के लिए इकट्ठा हुए थे।

गृहमंत्रालय के प्रवक्ता जनरल अल-तुर्की ने साउदी टेलीविज़न को बताया कि पुलिस ने आतंकियों की साजिश को नाकाम कर दिया है। उन्होंने बताया कि आतंकियों का निशाना यहां की सुरक्षा व्यवस्था में सेंध लगाना था। पूरे इलाके की सुरक्षा व्यवस्था और पुख्ता कर दी गई है। मक्का में मौजूद सभी तीर्थयात्री सुरक्षित हैं।

उन्होंने बताया कि मक्का में की गई छापेमारी में पांच संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया है, इनमें एक महिला भी शामिल है। ये लोग मस्जिद के आसपास का जायजा लेने आए थे। मस्जिद के नजदीक एक तिमंजिला इमारत में छिपे एक आतंकी ने खुद को सुरक्षाकर्मियों से घिरता देख गोलीबारी कर दी और बाद में विस्फोटक से खुद को उड़ा दिया।

इस विस्फोट में इमारत का एक हिस्सा ढह गया। उन्होंने बताया कि इस घटना में छह विदेशी नागरिक और पांच पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। घायल तीर्थयात्रियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां वे अब स्वस्थ्य हैं।

शुक्रवार को सऊदी अरब में अलग-अलग जगहों पर तीन आत्मघाती हमले हुए हैं, जिनमें सात लोगों के मारे जाने के समाचार हैं। अमेरिकी खुफिया विभाग के मुताबिक, इन विस्फोटों के पीछे आईएसआईएस का हाथ होने के सुराग मिले हैं।

2014 से सऊदी अरब आतंकी संगठन आईएसआईएस के निशाने पर है और यहां कई बार बम विस्फोट हो चुके हैं। पिछले साल भी रमजान के महीने में मदीना में हुए बम विस्फोट में चार सुरक्षाकर्मियों की मौत हुई थी।