उत्तर प्रदेश का आतंकी विकास दुबे उज्जैन में गिरफ्तार, मीडिया को देखकर चिल्ला-मैं विकास दुबे हूं कानपुर वाला…

विकास दुबे गुरुवार की सुबह करीब 9 बजकर 55 मिनट पर महाकाल मंदिर पहुंचा। इसके बाद विकास दुबे ने महाकालेश्वर मंदिर की पर्ची भी कटाई और महाकाल मंदिर परिसर में पहुंचा। परिसर में पहुंचकर चिल्लाने लगा कि मैं विकास दुबे हूं कानपुर वाला…। इस दौरान स्थीन मीडिया भी पहुंच गई। बताया जा रहा है कि विकास दुबे ने बकायदा सरेंडर की सूचना स्थानीय मीडिया और पुलिस को दी थी। हलांकि कलेक्टर का दावा है कि सुरक्षाकर्मियों ने उसे पहचान लिया जिसके बाद वो पकड़ा गया।

उज्जैन: विकास दुबे, उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में 2 जुलाई की रात हुए शूटआउट में बिल्हौर सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियो की हत्या करने का मुख्य आरोपी और पांच लाख रुपए के इनामी दुर्दांत अपराधी को गुरुवार की सुबह मध्य प्रदेश के उज्जैन में गिरफ्तार कर लिया गया है। विकास दुबे को उज्जैन पुलिस ने महाकाल मंदिर के बाहर से गिरफ्तार कर लिया है। उज्जैन के डीएम के मुताबिक, गुरुवार सुबह विकास महाकाल मंदिर परिसर में पहुंचा, वहां उसे सुरक्षाकर्मियों ने पहचान लिया। इसके बाद पुलिसकर्मियों ने उसे पकड़ लिया। उसे महाकाल मंदिर थाना में ले जाया गया। जहां उससे पूछताछ की जा रही है। इस बात की पुष्टि मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा की है।

जानकारी के मुताबिक, दुर्दांत अपराधी और पांच लाख रुपए का इनामी विकास दुबे गुरुवार की सुबह करीब 9 बजकर 55 मिनट पर महाकाल मंदिर पहुंचा। इसके बाद विकास दुबे ने महाकालेश्वर मंदिर की पर्ची भी कटाई और महाकाल मंदिर परिसर में पहुंचा। परिसर में पहुंचकर चिल्लाने लगा कि मैं विकास दुबे हूं कानपुर वाला…। इस दौरान स्थीन मीडिया भी पहुंच गई। बताया जा रहा है कि विकास दुबे ने बकायदा सरेंडर की सूचना स्थानीय मीडिया और पुलिस को दी थी। हलांकि कलेक्टर का दावा है कि सुरक्षाकर्मियों ने उसे पहचान लिया जिसके बाद वो पकड़ा गया। विकास दुबे की गिरफ्तारी की खबर मिलते ही यूपी एसटीएफ की टीम उज्जैन रवाना हो गई है।

विकास दुबे की गिरफ्तारी का वीडियो सामने आया है जिसमें वह मीडिया को देखकर चिल्ला रहा है कि- मैं विकास दुबे हूं कानपुर वाला…। स्थानीय पुलिस उसे गिरफ्तार कर गाड़ी में ले गई। पुलिस उसे महाकाल थाने ले आई और उससे पूछताछ शुरू कर दी है। मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने विकास दुबे के पकड़े जाने की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि यह पुलिस के लिए बड़ी सफलता है, विकास दुबे एक क्रूर हत्यारा है। कहा कि उसके मध्य प्रदेश में आने की संभावनाओं के चलते मध्य प्रदेश पुलिस अलर्ट पर थी और उसे आज उज्जैन से गिरफ्तार कर लिया गया है। साथ ही हमने उत्तर प्रदेश पुलिस को भी सूचित कर दिया है।

बिकरू गांव में 2 जुलाई की रात बिल्हौर सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों की हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद विकास दुबे फरार हो गया था। विकास दुबे की तलाश में यूपी एसटीएफ समेत 100 पुलिस टीमों को लगाया गया था। बता दें कि एसटीएफ और पुलिस ने हरियाणा, नेपाल दिल्ली, मध्य प्रदेश और राजस्थान बॉर्डर पर अभियान चलाकर उसकी तलाश करती रही। इतना ही नहीं, फरीदाबाद, नोएडा और दिल्ली में भी विकास की तलाश में लगी रही। लेकिन विकास दुबे पुलिस और यूपी एसटीएफ को गच्चा देकर मध्य प्रदेश के उज्जैन पहुंच गया। जहां पुलिस ने उसे आज गिरफ्तार कर लिया। लेकिन सवाल यह उठाता है कि पूरे प्रदेश को छावनी में तब्दील करने और 100 टीमें लगाने के बाद भी विकास दुबे मध्य प्रदेश का बॉर्डर पार कर उज्जैन कैसे पहुंच गया, उसकी किसने मदद की।