Home > Exclusive > Exclusive: बूँद-बूँद को तरस रहे बच्चे, खुली शिक्षा विभाग की पोल

Exclusive: बूँद-बूँद को तरस रहे बच्चे, खुली शिक्षा विभाग की पोल

fatehpur tez newsफतेहपुर- उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले में उस वक्त एक बड़ी सनसनी खेज मामले का खुलासा हुआ जब तेज न्यूज की टीम ने अचानक एक प्राथमिक विद्यालय में पहुंचकर वहां की वर्त्तमान स्थिति के बारे में जांच पड़ताल की ! पता चला कि यहाँ का हैंडपाइप सालो से ख़राब पड़ा हुआ है और बच्चे पानी पीने के लिए 300 मीटर की दूरी पर जाते है और शौच के लिए खुद ही 300 मीटर की दूरी से पानी लाते है !

यह मामला फतेहपुर जिले के प्राथमिक विद्यालय करमचन्द्रपुर संडा शिक्षा क्षेत्र भिटौरा ब्लॉक जनपद फतेहपुर का है ! इस विद्यालय में प्रधानाध्यापिकाओं को मिलाकर कुल 5 लोगो का स्टाफ है !

हालांकि दिलचस्प बात ये भी है कि विद्यालय में एक भी पुरुष अध्यापक नहीं है ! यहाँ कि हालत ये है कि सालो से हैंडपाइप ख़राब पड़ा हुआ है ! जिसके चलते मौजूदा बच्चों व् स्टाफ को पानी की सबसे बड़ी चुनौती का सामना करना पड़ता है ! पानी की समस्या को देखते हुए तैनात अध्यपिकए खुद पीने के लिए पानी अपने घरों से लेकर आती है ! लेकिन यहाँ के पढ़ने वाले बच्चे एक एक बूँद पानी पीने के लिए तरस रहे है ! लेकिन इन मासूम बच्चों की मासूमियत पर तरस खाने के लिए कोई तैयार नहीं है ! खुद ही इस विद्यालय के छोटे छोटे बच्चों को अपने पीने व् शौच के लिए 300 मीटर की दूरी तय करके पानी खुद ही लाना पड़ता है

प्राथमिक विद्यालय में तैनात प्रधानाध्यापिका श्रीमती शशि देवी का कहना है कि हमने लगातर अपने विभाग को हैंडपाइप लिए हर माह लेटर देकर यहाँ की स्थिति के बारे में अवगत कराया लेकिन अभी तक इस हैंडपाइप की मरम्मत नहीं करवाई गयी है ! कई बार तो यहाँ के प्रधान को भी इस बारे में अवगत कराया गया लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला जिसके चलते यहाँ के बच्चों को पानी की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है !
@सरवरे आलम

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com