Home > India > महाराष्ट्र से अलग राज्य की मांग, ‘विदर्भ का झंडा’ फहराया

महाराष्ट्र से अलग राज्य की मांग, ‘विदर्भ का झंडा’ फहराया

maharashtraनागपुर- महाराष्ट्र से अलग होकर विदर्भ राज्य बनाने की मांग एक बार फिर तेज हो गई है ! महाराष्ट्र दिवस की पूर्व संध्या पर शनिवार को नागपुर में प्रदर्शनकारियों ने विदर्भ राज्य का झंडा फहराकर अपनी मांग बुलंद की ! इसके साथ ही एक बड़ा कार्यक्रम कर अलग राज्य की मांग की गई !

महाराष्ट्र के पूर्व ऐडवोकेट जनरल श्रीहरि अणे के नेतृत्व में अलग विदर्भ राज्य के समर्थकों ने आज यहां ‘विदर्भ का झंडा’ फहराया और कहा कि वे अलग राज्य का अपना आंदोलन तेज करेंगे। विदर्भ समर्थक नेता और कार्यकर्ता यहां बजाज नगर चौक के एक निजी रिसॉर्ट में जमा हुए और महाराष्ट्र में एक मई 1960 के विदर्भ, मध्य प्रांत (सेंट्रल प्रोविंस) और बेरार के विलय के खिलाफ विरोध के प्रतीक के रूप में विशेष रूप से तैयार बहुरंगा झंडा फहराया।

श्रीहरि अणे की अगुवाई में हुए इस कार्यक्रम में बड़ी भीड़ जुटने का दावा किया गया है ! विदर्भ राज्य आंदोलन समिति, विदर्भ प्रदेश विकास परिषद, एमएलसी जोगेंद्र कावड़े के नेतृत्व वाली द पीपल्स रिपब्लिकन पार्टी, बहुजन रिपब्लिकन एकता मंच, विदर्भ कनेक्ट (वीकेन) सहित कई छोटे-बड़े संगठनों ने सामूहिक तौर पर कार्यक्रम का आयोजन किया !

उन्होंने कहा कि इस साल अलग विदर्भ राज्य के आंदोलन ने ज्यादा जोर पकड़ लिया है क्योंकि इसका विरोध मनसे के अलावा सत्तारूढ़ गठबंधन में शामिल शिवसेना भी कर रही है। तीन बार विधायक रहे शेतकरी संघटना नेता वामनराव चताप, दलित नेता सुलेखा कुंभारे, पुलिस के पूर्व महानिदेशक प्रबीर चक्रवर्ती, पूर्व आयकर मुख्य आयुक्त बी. धार्मिक, जनमंच अध्यक्ष अनिल किलोर शामिल हुए।

नागपुर के विष्णुजी की रसोई में विदर्भ राज्य की मांग से जुड़ा बड़ा कार्यक्रम के बाद कई अन्य छोटी-बड़ी जगहों पर सभा की गई ! सभाओं में शामिल लोगों ने अलग विदर्भ राज्य की मांग को लेकर नारेबाजी की. गौरतलब है कि नागपुर प्रदेश के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस का गृह जिला है !

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com