खंडवा – मध्य प्रदेश के खंडवा जिले में वर्चस्व की लड़ाई को लेकर किन्नरों के दो पक्षों में मंगलवार दोपहर मारपीट और चाकूबाजी हो गई। एक पक्ष कोतवाली थाने में रिपोर्ट दर्ज कराने पहुंचा। पुलिस ने आनाकानी की। नाराज किन्नरों ने थाने की कुर्सियां फेंक दी। ताल ठोकी और नग्न हो गए। किन्नरों से डरकर महिला सब इंस्पेक्टर कमरे में छिप गई। पुलिस जवान भी यहां-वहां भागते रहे। किन्नरों का उत्पात आधा घंटा चला।

मामला उस समय बढ़ गया जब थाने में मौजूद एएसआई ने किन्नरों को फटकारते हुए नकली कह दिया। यह सुन किन्नरों का समूह आगबबूला हो गया। महिला एसआई को धक्का देकर प्रधान आरक्षक के कक्ष में घुस गए। आरक्षक से झूमाझटकी की। कुर्सी से खड़ा कर कालर पकड़ी और गालियां दी। किन्नरों की अश्लीलता देख थाने में मौजूद एक महिला आरक्षक भाग गई। हंगामा बढ़ता देख थाने में मौजूद एसआई गीता जाटव एक कक्ष में छिप गई।

मामले की जानकारी जैसे ही अला अधिकारियों को लगी वह तुरंत कोतवाली थाने पहुंचे और किन्नरों से बात कर मामला दर्ज करने का आश्वासन दिया। तब कही मामला थोड़ा शांत हुआ। बताया जाता है की किन्नर पुलिस कप्तान से भी अपनी समस्या को लेकर मिले थे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here