Home > State > Delhi > तीन तलाक बिल : राज्य सभा में पेश, विपक्ष का हंगामा

तीन तलाक बिल : राज्य सभा में पेश, विपक्ष का हंगामा

नई दिल्लीः पिछले सप्ताह लोकसभा में पास हुआ ‘तीन तलाक’ बिल आज (3 जनवरी, 2017) राज्य सभा में सदन पटल पर रखा गया है, जिसे कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने पेश किया है। इस सदन में भी बिल पास होने के बाद तलाक देना अपराध की श्रेणी में आ जाएगा। हालांकि विपक्ष बिल पेश होने पर सदन में जोरदार हंगामा कर रहा है। इससे पहले सरकार ने बिल के चलते अपने सभी सासंदों को मंगलवार को ही तीन लाइन का व्हिप जारी कर सदन में मौजूद रहने के लिए कहा था। राज्यसभा में पेश होने वाले इस बिल को पास करवाने के लिए सरकार विपक्षी दलों का समर्थन जुटाने में लगी है।

खबर के अनुसार भाजपा के रणनीतिकार मंगलवार को दिन भर विपक्षी नेताओं से मुलाकात कर सदन में विधेयक के पक्ष में आमराय बनाने की कोशिश करते रहे। सपा नेता मुलायम सिंह यादव, बसपा नेता सतीश चंद्र मिश्र, एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल और कांग्रेस के नेताओं से मुलाकात कर विधेयक के पक्ष में मतदान करने का अनुरोध किया गया। खबर है कि इस मामले में ज्यादातर नेताओं में बिल के समर्थन में अपनी राय जाहिर की।

हालांकि कहा जा रहा है कि विपक्ष इसका विरोध कर सकता है। दरअसल कांग्रेस सहित विपक्षी दल लेफ्ट, डीएमके, एआईएडीएमके समीक्षा के लिए इस बिल को सांसदों के पैनल के पास भेजने की मांग कर रहे हैं। ये सभी दल बिल में तीन तलाक को आपराधिक बनाए जाने का भी विरोध कर रहे हैं।

Triple Talaq Bill   अपडेट्स-

– रविशंकर का कांग्रेस पर निशाना, पूछा- क्या आप महिलाओं के खिलाफ हैं।

– विपक्ष की मांग बिल सिलेक्ट कमेटी के पास भेजा जाए।

– जेटली का कांग्रेस पर आरोप लोकसभा में समर्थन और राज्य सभा में विरोध क्यों?

– सरकार बिल को सिलेक्ट कमेटी में भेजने के खिलाफ।

– संसद भवन परिसर पहुंची मुस्लिम महिलाएं।

– वित्त मंत्री अरुण जेटली का विपक्ष पर हमला, कहा- संशोधन के लिए पहले नोटिस क्यों नहीं दिया।

– विपक्ष बिल में संशोधन की मांग कर रहा।

– तीन तलाक बिल में सुप्रीम कोर्ट का आदेश ना मानने पर कड़ी सजा का प्रवाधान है।

– बिल के विरोध में विपक्ष कर रहा हंगामा

– ‘तीन तलाक’ पर राज्य सभा में चर्चा शुरू। रविशंकर प्रसाद ने पेश किया बिल

– वित्त मंत्री अरुण जेटली का आरोप- तीन तलाक विधेयक पर कांग्रेस अपना रही दोहरे मानक।

– महाराष्ट्र हिंसा के चलते राज्य सभा दोपहर दो बजे तक स्थगित।

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .