यूपी: सीएम आवास पर नहीं चलेंगा एसी, Chinese Food भी बंद !

लखनऊ: मुख्यमंत्री बनने के बाद आदित्यनाथ योगी राजधानी के वीवीआईपी गेस्ट हाउस में निवास कर रहे है और नवरात्र तथा नव सम्वत्सर के पर्व पर अपने नये घर 5 कालीदास मार्ग में प्रवेश करेंगे । गौरतलब है कि गोरखपुर से आये ब्राहम्णों ने पूजा अर्चना करके 5 कालीदास मार्ग सीएम आवास का शुद्धिकरण कर दिया था परंतु मुख्यमंत्री योगी नवरात्रों का इन्तजार कर रहे है । पिछले सीएम अखिलेश यादव के समय से अब के सीएम योगी के समय में बहुत बड़े बदलाव 5 कालीदास मार्ग देख रहा है ।

अखिलेश यादव के समय से 5 कालीदास आवास सेंट्रली एसी है और यहां 3 किचन हैं जहां कॉन्टिनेंटल से लेकर इटैलियन, मैक्सिकन, चायनीज व्यंजन बनते थे । खानसामे भी प्रॉपर ड्रेस्ड और वेल क्वालिफाइड थे और खाना परोसने के लिए वेटर भी पूरे यूनिफार्म में मौजूद रहते थे । सबसे महंगी इटैलियन क्राकरी में खाना सर्व किया जाता था । यह भी कहा जाता है कि किचन में हाथी के दांत की भी क्राकरी है । गेस्ट रूम में महंगे फर्नीचर और बेडरूम्स में आलीशान बेड और सोफा मौजूद है । बेडरूम्स, विसिटिंग रूम, ड्राइंग रूम में एलईडी टीवी जिस पर तमाम न्यूज़ चैनल हमेशा चलते रहते थे । सुरक्षा की दृष्टि से चारो तरफ सीसीटीवी लगा है आवास के अन्दर ही सीएम का ऑफिस हैं जहां से अखिलेश अपना ज्यादातर काम निपटाते थे । फैमिली में सिर्फ पत्नी डिंपल ही आती थीं और कभी कभार बच्चे भी पहुंच जाते थे ।

योगी के आने के बाद 5 कालीदास मार्ग स्थित मुख्यमंत्री आवास में बड़े बदलाव किये जा रहे है अब जब योगी ने साथ पंडितों से इस बंगले का शुद्धिकरण करवाया है और नवरात्रों में वे इस आवास में प्रवेश भी करेंगे । इससे पहले उन्होंने अपने मातहतों को इस बंगले में जरुरी बदलाव भी करने के निर्देश दिए हैं ।

योगी ने साफ़ कहा है कि उनके शयनकक्ष में एसी नहीं होना चाहिए बेडरूम में सिर्फ एक तख्त होगा और महंत योगी के रसोईघर में प्रोफेसनल सेफ की जगह अब गोरखनाथ मंदिर से एक भंडारी आएगा । सेफ की ड्रेस में खाना बनाने वालों की जगह धोती और बनियान में भंडारी भोजन तैयार करेगा । डाइनिंग टेबल की जगह भोजन अब जमीन पर ही परोसा जाएगा । इटैलियन क्राकरी की जगह पीतल, ताम्बे, फूल और कांसे के वर्तन का प्रयोग होगा और योगी के लिए अलग से ताम्बे का ग्लास और लोटा होगा जिसमे वे पानी पिएंगे । योगी ने चमड़े के सभी सामान बहार करवा दिए हैं । उनकी जगह कपड़ों के सोफे होंगे। सरकारी आवास के अन्दर एक गौशाला भी होगी जहां सीएम गौ सेवा करेंगे । योगी मुख्यमंत्री बनने से पहले कभी टीवी या रेडियो नहीं देखते सुनते थे ।

रिपोर्ट @शाश्वत तिवारी