Home > State > Delhi > मोदी सरकार बनाने में मायावती करेंगी मदद: रिपोर्ट

मोदी सरकार बनाने में मायावती करेंगी मदद: रिपोर्ट

नई दिल्ली : देश में 6 दौर के चुनाव हो चुके हैं और अब सिर्फ 60 सीटों पर वोटिंग होनी है। ऐसे में एक ऐसी रिपोर्ट आई है, जिससे गैर-बीजेपी सरकार बनाने की विपक्षी मुहिम को बहुत बड़ा धक्का लग सकता है। इस रिपोर्ट के मुताबिक बीजेपी (BJP) या एनडीए (NDA) को भी पूरा बहुमत मिलने की संभावना नहीं है, लेकिन उसके पास इतनी सीटें आ सकती हैं, जहां मायावती

एंबिट कैपिटल (Ambit Capital ) की रिपोर्ट पर भरोसा करें, तो उत्तर प्रदेश में बीजेपी को तगड़ा झटका लग सकता है, जिसके चलते उसके लिए 190 से 210 सीटों से ज्यादा जीत पाना बहुत मुश्किल है। रिपोर्ट के मुताबिक यूपी (UP) में बहुजन समाज पार्टी (BSP),समाजवादी पार्टी (SP) और राष्ट्रीय लोक दल (RLD) का जो गठबंधन (Alliance) हुआ है, उससे बीजेपी (BJP)और एनडीए (NDA) की टोटल टैली बहुत ज्यादा घट सकती है। एंबिट कैपिटल (Ambit Capital) के लिए रितिका मानकर मुखर्जी ( Ritika Mankar Mukherjee) और सुमित शेखर (Sumit Shekhar) ने जो रिपोर्ट तैयार की है, उसमें नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाले एनडीए (NDA) को 220 से 240 सीटें मिलने की संभावना जताई गई है।

एंबिट कैपिटल (Ambit Capital ) की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि उत्तर प्रदेश में भाजपा को जबर्दस्त नुकसान हो सकता है। संस्था ने यूपी के गोरखपुर के कुछ राजनीतिज्ञों, छोटे कारोबारियों और शिक्षाविदों से बातचीत के आधार पर दावा किया है कि बहुजन समाज पार्टी (BSP) और समाजवादी पार्टी (SP) गठबंधन के पास 40 से 50 फीसदी वोट शेयर जा सकते हैं, जिसके कारण बीजेपी 30 या 35 सीटों से अधिक सीटें नहीं जीत सकती।

एंबिट कैपिटल (Ambit Capital ) ने जमीनी हालातों की जांच-परख के बाद बताया है कि नतीजों के बाद एनडीए को केंद्र में सरकार बनाने के लिए कम से कम चार बड़ी क्षेत्रीय पार्टियों से हाथ मिलाना पड़ सकता है, जिसमें मायावाती (Mayawati) की बीएसपी (BSP) भी शामिल है। वैसे, ये अलग बात है कि आखिरी दौर का चुनाव आते-आते माया और मोदी के बीच जुबानी जंग काफी बढ़ चुकी है। गौरतलब है कि 2014 के लोकसभा चुनाव में वोट शेयर के मामले में बीएसपी, बीजेपी और कांग्रेस के बाद तीसरे नंबर की नेशनल पार्टी थी, लेकिन उसे एक भी सीट नहीं मिले थे।

इससे पहले क्रेडिट लियोन्नाइस सिक्योरिटीज एशिया (Credit Lyonnais Securities Asia-CLSA) की रिपोर्ट में भी लोकसभा चुनाव 2019 के बाद नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली एनडीए (NDA) सरकार बनने की ही संभावना जताई गई थी। अलबत्ता इस एनालिसिस में भी एनडीए (NDA) के सांसदों की संख्या कम होने की आशंका जताई गई है। रिपोर्ट में मोदी की अगुवाई वाले गठबंधन के बहुमत के जादुई आंकड़े तक पहुंचने के लिए पाकिस्तान के खिलाफ मोदी सरकार के आक्रामक रवैये को मुख्य कारण बताया गया है। गौरतलब है कि रविवार को छठे दौर का चुनाव खत्म होने के साथ ही 543 सीटों वाली लोकसभा की 89 सीटों पर चुनाव पूरे हो चुके हैं और अब सिर्फ 59 सीटों पर 19 मई को मतदान होने हैं और 23 मई को नतीजे घोषित किए जाने हैं।

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com