देश में आस्था के नाम पर हिंसा बर्दाश्त नहीं, PM मोदी के भाषण की पढ़ें खास बातें - Tez News
Home > State > Delhi > देश में आस्था के नाम पर हिंसा बर्दाश्त नहीं, PM मोदी के भाषण की पढ़ें खास बातें

देश में आस्था के नाम पर हिंसा बर्दाश्त नहीं, PM मोदी के भाषण की पढ़ें खास बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 71वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लाल किले की प्राचीर से झंडा फहराया। उन्होंने अपने भाषण में कहा, इस साल प्राकृतिक आपदाओं ने देश को काफी नुकसान पहुंचाया है। गोरखपुर के अस्पताल में मासूम बच्चों की मौत पर दुख जताते हुए उन्होंने कहा कि इसे लेकर पूरा देश संवेदनशील है।

पीएम मोदी ने कहा कि हमें न्यू इंडिया का संकल्प लेकर देश को आगे लेकर जाना है। भारत में कोई छोटा या बड़ा नहीं है। सब एक बराबर हैं। एक साथ आकर ही हम बदलाव ला सकते हैं। पीएम मोदी ने कहा, यह एक खास वर्ष है, क्योंकि देश भारत छोड़ो आंदोलन की 75वीं, चंपारण सत्याग्रह की 100वीं और गणेश उत्सव की 125वीं सालगिरह मना रहा है।

उन्होंने यह भी कहा कि अगले साल 1 जनवरी 2018 तक जो इस सदी में पैदा हुए हैं, वह 18 साल के हो जाएंगे। पीएम ने उन्हें भारत का भाग्य विधाता बताया। लाल किले की प्राचीर से उन्होंने कहा कि अब हमें ‘चलता है’ की प्रकृति छोड़ देनी चाहिए। अब हमें बदल सकता है के बारे में सोचना चाहिए, जिससे देश के विकास में मदद मिले। पीएम ने पिछले साल सितंबर में की गई सर्जिकल स्ट्राइक की याद भी देशवासियों को दिलाई। उन्होंने कहा, सुरक्षा हमारी उच्च प्राथमिकता है और सेना ने खुद को साबित किया है।

1 जुलाई से पूरे देश में लागू हुए गुड्स एंड सर्विस टैक्स (जीएसटी) पर पीएम ने अपने भाषण में कहा कि इससे सहकारी संघवाद की भावना जगी है। पीएम ने कहा कि पूरा देश जीएसटी के समर्थन में उतरा है और टेक्नोलॉजी ने इसमें काफी मदद की है।

जम्मू-कश्मीर के हालात पर पीएम ने कहा, आपको जानकार खुशी होगी कि आज हम अकेले ही आतंकवाद से नहीं लड़ रहे हैं, कई देश हमारा समर्थन कर रहे हैं। उन्होंने कहा, कश्‍मीर के अलगाववादी नए-नए पैंतरे रचते हैं। इस राज्य की समस्‍या का हल गोली और गाली से नहीं बल्कि गले लगाने से संभव है। मुझे खुशी है कि सुरक्षाबलों के प्रयासों से भटके हुए नौजवान मुख्‍यधारा में आए।
अपनी सरकार की उपलब्धियों पर पीएम ने कहा, सरकार की योजनाओं में रफ्तार बढ़ी है। हर महीने सरकार के कामकाज का लेखा-जोखा लेता रहता हूं। देश के विकास में राज्‍य सरकारों की बहुत अहमियत है। आज सारे निर्णय देश और राज्‍य सरकारें मिलकर ले रही हैं। पीएम ने यह भी कहा कि लोकतंत्र मतपत्र तक सीमित नहीं हो सकता है।

जनभागीदारी से ही देश को आगे बढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है। हमारा किसान आज रिकॉर्ड फसल उत्‍पादन करके दे रहा है। फसल बीमा योजना से सवा करोड़ किसान जुड़े हैं। उन्होंने कहा, किसानों के लिए हमनें 21 योजनाएं लागू कीं। जल्‍दी ही बाकी योजनाएं लागू की जाएंगी। सरकार ने 16 लाख टन दाल खरीदने का ऐतिहासिक काम किया है। पीएम मोदी ने कहा कि देश के किसानों को पानी की समस्या है। हम इस दिशा में काम कर रहे हैं और जल्द ही उनकी यह समस्या खत्म हो जाएगी। उन्होंने कहा कि बीज से बाजार तक किसानों की समस्या को खत्म किया जाएगा।

पीएम मोदी ने कहा कि मुद्रा योजना से युवाओं ने रोजगार पैदा किए हैं। शिक्षा के क्षेत्र में सरकार ने बहुत काम किया है। शिक्षा को नौकरी से जोड़ने का काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा, माताओं बहनों के लिए रोजगार कानून में बदलाव किए गए हैं।

तीन तलाक के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि पीड़ित महिलाओं ने जोरदार आंदोलन किया और देश में माहौल बनाया। इन महिलाओं की इस लड़ाई में हिंदुस्तान उनकी मदद करेगा। पीएम ने कहा कि आस्था के नाम पर कुछ लोग गलत काम करते हैं। उन्होंने कहा कि सांप्रदायिकता और जातिवाद का जहर देश को नुकसान पहुंचाता है। उन्होंने कहा कि आस्था के नाम पर हिंसा को जगह नहीं दी जा सकती।

पीएम ने कहा, तीन सालों में सरकार ने कई काम किए। हम देश को नए ट्रैक पर ले जाने का प्रयास कर रहे हैं और कोशिश कर रहे हैं कि देश के प्रगति की गति कम न हो। हमने हर प्रकार के इंफ्रास्ट्रक्चर को बढ़ावा दिया है। कालेधन पर एसआईटी बनाने के बाद पीएम मोदी ने कहा कि अब तक सवा लाख करोड़ रुपये कालाधन पकड़ा है।

उन्होंने कहा कि नोटबंदी के जरिए भी सरकार ने कालाधन बाहर निकाला। करीब तीन लाख करोड़ रुपये नोटबंदी के बाद बैंकिंग सिस्टम में वापस आया है। उन्होंने कहा कि पौने दो लाख करोड़ की राशि शक के घेरे में है। उन्होंने कहा कि अब सभी को जवाब देना है। उन्होंने कहा कि लाखों नए लोगों ने आईटीआर भरा है। 18 लाख लोगों को पहचाना गया है जिनकी आय बहुत ज्यादा है।

पीएम मोदी ने कहा कि नोटबंदी के बाद तीन लाख ऐसी कंपनियां पाई गईं, जो हवाला का काम कर रही थीं। पौने दो लाख का रजिस्ट्रेशन रद्द कर दिया। एक ही पते पर 400 कंपनियां चल रही थी। उन्होंने कहा कि देश के नौजवानों भविष्य के लिए यह लड़ाई जारी है।

उन्होंने कहा कि जीएसटी के कारण इस लड़ाई में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि जीएसटी के कारण ट्रांसपोर्ट जगत में लाभ हुआ है। उन्होंने कहा कि 30 प्रतिशत एफिसिएंसी बढ़ गई है।

उन्होंने कहा कि डिजिटल लेन-देन बढ़ रहा है। हमें कम कैश वाली योजना पर आगे बढ़ना चाहिए। उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान के हर जिले में डायलिसिस पहुंचाया गया है। हम तेजस हवाई जहाज के द्वारा दुनिया में नाम कमा रहे हैं। भीम ऐप का इस्तेमाल बढ़ा है।

उन्होंने कहा कि हम न्यू इंडिया का संकल्प लेकर आगे बढ़ें। सही समय पर अगर कोई कार्य पूरा नहीं किया गया तो इच्छित परिणाम नहीं मिलते। टीम इंडिया के लिए हमें संकल्प लेना होगा। 2022 तक न्यू इंडिया का संकल्प लें। गरीब के पास पक्का घर, बिजली पानी हो। देश का किसान चिंता में नहीं चैन से सोए।

loading...
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com