Home > India > व्यापमं परीक्षा में होगे पांच प्रकार के प्रश्नपत्र, बढ़ेगी साख

व्यापमं परीक्षा में होगे पांच प्रकार के प्रश्नपत्र, बढ़ेगी साख

 VYAPAM

भोपाल- मप्र प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड अब परीक्षाओं में सतर्कता बरतते हुए नित नये प्रयोग कर रहा है। इसी कड़ी में तय किया गया है कि अक्टूबर में होने जा रही गुरुप दो के पाइंट लैब टेक्नीशियन और अन्य कॉडर की प्रतियोगी परीक्षाओं में बैठने वाले तीन लाख से अधिक परीक्षार्थियों को चकित करने वाले प्रश्नपत्र दिये जायेंगे।

ये प्रश्नपत्र पांच प्रकार के होंगे जो हर पांच परीक्षार्थी के बीच में अलग-अलग होंगे। प्रश्नों के उत्तरों के क्रम भी अलग-अलग होंगे जिससे कोई इशारों में भी उत्तर नहीं जान पायेंगे। व्यापमं का दाग’ कैसे मिटे। इसे ध्यान में रखते हुये 30 और 31 अगस्त को पहली बार पाहुंट की आॅनलाइन प्रतियोगी परीक्षा आयोजित की गई थी। पीईबी ने परीक्षार्थियों को पेपर हल करने के 15 मिनट में स्कोर भी बता दिया था।

पीईबी ने निर्णय लिया है कि आपत्तियों के मंगाने और उनके निराकरण करने के एक सप्ताह में परिणाम घोषित कर दिये जायेंगे। इस आॅन लाइन परीक्षा आयोजन के बाद व्यावसायिक परीक्षा मंडल 4 अक्टूबर को आयोजित करने जा रही प्रतियोगी परीक्षा में परीक्षार्थियों को ऐसे प्रश्नपत्र उपलब्ध कराये जायेंगे जिसे देखकर वे भ्रमित रहेंगे।

आने वाली प्रतियोगी परीक्षाओं में पूरी तरह सतर्कता वरती जा रही है। अक्टूबर में कराई जा रही परीक्षा के दौरान परीक्षार्थियों को अलग-अलग प्रश्नपत्र दिये जायेंगे। 4 अक्टूबर को आयोजित परीक्षा में करीब 3 लाख प्रतियोगी बैठेंगे। इस परीक्षा की चुनौती से निबटने के लिये तकनीकी विशेषज्ञों की मदद ली जा रही है। ये विशेषज्ञ पलक झपकते बता देंगे कि किस जगह पर गड़बड़ी की आशंका है।

तय किया है कि परीक्षा हॉल में जो प्रश्नपत्र उपलब्ध कराये जायेंगे वे पांच प्रकार के होंगे। हर प्रश्न पत्र को एक को छोड़कर एक परीक्षार्थी के बीच उपलब्ध कराया जायेगा। इस तरह कोई परीक्षार्थी अगल-बगल या फिर पीछे और आगे बैठे साथी परीक्षार्थी से उत्तर नहीं जान पायेगा। इसके आलावा हर परीक्षा हॉल में सीसीटीवी कैमरे लगे होंगे। ये कैमरे बतायेंगे कि किसी टेबिल पर बैठा परीक्षार्थी किस तरह से कोई खेल कर रहा है। इस सिस्टम को आॅब्जर्ब करने के लिये अलग से कंट्रोल रूम बनाया जायेगा।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com