Home > India > मेनोपॉज के दौरान योनि में बदलाव ? कुछ खास टिप्‍स !

मेनोपॉज के दौरान योनि में बदलाव ? कुछ खास टिप्‍स !

girl-women-vagina-sex-menopauseमेनोपॉज के दौरान महिलाओं के शरीर में कई सारे परिवर्तन होते हैं जिनमें से एक परिवर्तन उनकी योनि में होने वाला सूखापन भी है। बोल्‍डस्‍काई इस समस्‍या से निपटने के बारे में दे रहा है महिलाओं को कुछ खास टिप्‍स।

मेनोपॉज के चरण में आ चुकी महिलाओं को कई प्रकार की शारीरिक और मानसिक दिक्‍कतों को झेलना पड़ जाता है। मेनोपॉज के दिनों में उसके शरीर को बदलाव की कई अवस्‍थाओं को देखना पड़ता है जिनमें से एक अवस्‍था, योनि में होने वाला सूखापन होता है जो उन्‍हें असहज बना देता है।

कई महिलाओं को ऐसा लगता है कि उन्‍हें कोई बीमारी हो गई है बल्कि ऐसा नहीं है। ये मेनोपॉज का ही एक हिस्‍सा है जो कि शरीर में ऑस्‍ट्रेजन की कमी के कारण हो जाता है। कई बार ये मात्रा में इतना कम होता है कि महिलाओं को इसके बारे में पता भी नहीं चलता है।

महिलाओं में मेनोपॉज के दौरान, ऑस्‍ट्रेजन नामक हारमोन की कमी हो जाती है और योनि अपनी शक्ति खो देती है। चूँकि ये हारमोन योनि को शिथिल होने से रोकता है ऐसे में इसके कम होने पर योनि ढीली हो जाती है और सेक्‍स की इच्‍छा भी कम होने लगती है।

ऐसा होने पर योनि से सेक्‍स के दौरान निकलने वाला स्‍त्राव भी नहीं निकलता है। साथ ही योनि में सूखापन भी आ जाता है। इस परिवर्तन की वजह से सेक्‍स करने पर महिला को दर्द महसूस हो सकता है। कई बार महिलाएं, संभोग करने से इंकार भी कर देती है।

चलिए हम बात करते हैं कि इस दौर से गुजरने वाली महिलाएं किस प्रकार इस समस्‍या को हैंडल कर सकती हैं और आसानी से इस चरण को पार कर सकती हैं। इस समस्‍या के होने पर महिलाओं को योनि में कोई मॉश्‍चराइजर लगा लेना चाहिए और उनहें आराम करना चाहिए। ल्‍यूब्रिकेंट के तौर पर नारियल का तेल सबसे सही रहता है। इसमें एंटीबैक्‍टीरियल और एंटीफंगल प्रॉपर्टी होती है जो योनि में किसी भी प्रकार के संक्रमण को होने से रोकती है।

साथ ही आप कोई योनि क्रीम को डॉक्‍टर से सलाह लेकर लगा सकते हैं। इससे आपको सूखेपन की वजह से होने वाले दर्द में भी आराम मिलेगा। अगर समस्‍या बहुत ज्‍यादा महसूस होती है तो तुरंत ही अपने डॉक्‍टर से सम्‍पर्क करें। [डेस्क]




Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com