मशहूर बॉलीवुड अभिनेता और भाजपा सांसद परेश रावल की ट्विटर पर आम आदमी पार्टी नेता प्रीति शर्मा मेनन के साथ तीखी नोकझोंक हुई। दोनों नेताओं ने ट्विटर पर एक दूसरे के खिलाफ एक के बाद एक कई ट्वीट कई किए। दरअसल इस नोकझोंक की शुरुआत तब हुई जब परेश रावल ने अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकी हमले के बाद ट्वीट करते हुए कहा, ‘आतंकी हमले में मारे गए अमरनाथ यात्रियों के परिवार वालों को कितना मानवाधिकार मिलेगा? क्या वो पाकिस्तान को इसका जवाब देंगे या आतंकवाद को सहानुभूति देंगे?’

प्रीति शर्मा ने रावल के इसी ट्वीट का जवाब देते हुए लिखा, ‘शर्मनाक! जब पूरे देश को आतंकवाद के खिलाफ एकजुट होकर खड़ा होना चाहिए। लेकिन ऐसे निराश लोग सोचते हैं कि कैसे सरकार को दोष दें।’ जिसके बाद परेश रावल ने ट्वीट का जवाब देते हुए लिखा, ‘मैडम अगर मुझे आपकी राय चाहिए होगी तो आपको बता दूंगा। इसलिए तब तक प्लीज चुप रहें।’

वहीं आप नेता ने भाजपा सांसद के ट्वीट का जवाब देते हुए लिखा, ‘सर क्या ये धमकी है? या आदेश? कौन मर गया और आपको भगवान किसने बना दिया?’ जिसके बाद आखिर में परेश रावल ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘मैडम ये ना कोई धमकी है और ना ही कोई आदेश। बस एक सुझाव हैं। मैंने मानव अधिकारों के लिए ये ट्वीट किया। इसलिए आपका हस्तक्षेप करना अनुचित था।’

दूसरी तरफ परेश रावल के ट्वीट के बाद कई यूजर्स ने भी इसपर अपनी प्रतिक्रियाएं दी हैं। राजेश जैन लिखते हैं, ‘प्रीति उन लोगों में से एक हैं जो कश्मीर में पत्थरबाजों का समर्थन करती हैं। और मानवधिकारों के तहत नाटक करती हैं। इसे कहते हैं चोर की दाढ़ी में झाड़ू।’ डोली लिखती हैं, ‘प्रीति इन दिनों फ्री हैं। उनका ब्यूटी सैलून भी बंद हो चुका है। ऐसा मुझे लगता है।’ कंगना लिखती हैं, ‘आज बाल ठाकरे की बहुत याद आती है। वो हमेशा हिंदू मिलिटेंट की बात करते थे। काश हम उनके आदेशों पर चल पाते।’