अवैध संबंध के चलते प्रेमी के साथ मिलकर पत्नी ने किया पति का ये हाल

0
20

 

 

यूपी के हमीरपुर जिले में प्रेमी के साथ मिलकर पति का गला दबाकर मौत के घाट उतारने वाली महिला को उसके प्रेमी साथी के साथ गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है।

दोनों ने हत्या करके आत्महत्या का रूप देने की बात स्वीकार की है। सुमेरपुर कस्बे की नईबस्ती में गत दो नवंबर को देवनारायन साहू का शव साड़ी से बंधा पाया गया था।

तब मृतक की पत्नी सुधा साहू (30) का कहना था कि पति ने रात में आत्महत्या कर ली है। लेकिन जब इस सनसनीखेज वारदात का खुलासा हुआ तो लोगों के होश उड़ गए।

मृतक के पिता भूरा साहू का आरोप था कि बहू ने अपने प्रेमी अजय तिवारी तथा भाई राजेश साहू निवासी बांदा के साथ मिलकर उसके पुत्र की हत्या कर दी है। पिता ने थाने में तहरीर भी तीनों के खिलाफ दी थी।

थानाध्यक्ष गिरेंद्र पाल सिंह ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने की बात कहकर मुकदमा दर्ज करने का आश्वासन दिया था।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण गला दबाना पाए जाने के बाद पुलिस ने 20 नवंबर को मृतक देवनरायन की पत्नी सुधा साहू, साले राजेश साहू निवासी बांदा एवं सुधा के प्रेमी अजय तिवारी निवासी ऊंछाथोक कस्बा सुमेरपुर को नामजद किया था।

मुकदमा दर्ज होते ही अजय तिवारी कस्बे से फरार हो गया था। जिसे पुलिस ने सुधा के सहयोग से गिरफ्तार किया है।

शुक्रवार को पुलिस ने दोनों को जेल भेजा है। थानाध्यक्ष गिरेंद्र पाल सिंह ने बताया कि पूछताछ में सुधा ने अजय तिवारी के साथ मिलकर पति देवनरायन की गला दबाकर हत्या करने की बात कबूल की है।

हत्या करने के बाद दोनों ने शव को चारपाई पर बैठाकर साड़ी के सहारे छत के कुंडे से टांग दिया था।

ताकि लोगों को यह लगे कि देवनरायन ने फांसी लगाकर आत्महत्या की है। मृतक देवनरायन अपने माता पिता की इकलौती संतान थी।

बहू एवं उसके प्रेमी की गिरफ्तारी होने पर पिता भूरा साहू, मां सहोद्रा साहू ने राहत की सांस ली है।