Home > India > सरहद की माटी लेकर वापस लौटी खंडवा की बेटियां

सरहद की माटी लेकर वापस लौटी खंडवा की बेटियां

with Border soil,Khandwa daughters returnedखंडवा – खेल एवं युवा कल्याण की ओर से मां तुझे प्रणाम कार्यक्रम के अंर्तगत वाघा बार्डर और हुसैनीवाला बार्डर के लिए खंडवा की बेटियों का एक दल 23 मार्च को भोपाल के तात्या टोपे स्टेडियम से रवाना हुआ था जो अपनी यात्रा पूरी कर सोमवार को वापस खंडवा लौट आया। खंडवा लौटते ही उन्होंने सरहद की माटी से जिलाधीश का तिलक किया। इस दल में खंडवा से आठ बेटियों का चयन हुआ था जो पहले हुसैनीवाला बार्डर और फिर वाघा बार्डर पर गई जहां उन्होंने बीएसएफ एवं सेना के जवानों से मुलाकात की और उनकी दिनचर्या के बारे में जाना।

with Border soil,Khandwa daughters returned 1एनएसएस की निकिता नागोरी ने बताया कि बार्डर पर बीएसएफ और सेना के जवानों की मुस्तैदी को देखकर यह लगता है कि हम देश में अगर अमन और चैन की सांस ले पाते हैं तो इन्हीं वीर जवानों के कारण। निकिता ने कहा कि सेना देश की रक्षा के लिए निरंतर चौकसी बरतती है जिसके कारण ही हम देश में खुशहाल जिंदगी गुजार पाते हैं। वाघा बार्डर पर फ्लेग सेरेमनी के समय जब तिरंगा फहराया जाता है तो वह क्षण सबसे अद्भुत होता है, उस समय मन सिर्फ और सिर्फ तिरंगे की ओर लगा होता है और सर गर्व से आसमान की ओर तन जाता है।

खिलाड़ी अभिव्यक्ति बछानिया ने कहा कि सरहद की माटी अपने साथ लाना एक सुखद अनुभव है। इस माटी को हम जीवन भर अपने साथ रखेंगे ताकि हमें देश के लिए अपने प्राण न्यौछावर करने का जज्बा बने रहे। अभिव्यक्ति ने कहा कि खंडवा पहुंचते ही उन्होंने सबसे पहले वीर शहीदों की इस माटी से जिला कलेक्टर को तिलक किया।

एनसीसी की ललिता पगारे ने कहा कि बीएसएफ और सेना के जवानों का काम देखकर हमारे दिल में भी देश के लिए मर मिटने का जज्बा हिलोरे मारने लगा है। वहां से लौटने के बाद हम सब ने निर्णय लिया है कि अगर मौका मिला तो हम भी देश की सेना में भर्ती होकर उन्हीं वीर जवानों की तरह अपने देश की सुरक्षा में लग जाएंगे।

खेल प्रशिक्षक अमीन खान ने बताया कि मप्र सरकार ने मां तुझे प्रणाम जैसा अभिनव कार्यक्रम कर देश के युवाओं को देश प्रेम से जोडऩे का काम किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान हमेशा प्रदेश और देश के प्रति कार्य करते हैं उसी का नतीजा है कि मां तुझे प्रणाम जैसा कार्यक्रम आज युवाओं के लिए प्रेरणा स्त्रोत बन गया है। दल की अन्य सदस्यों ने भी प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान का आभार माना और उन्हें मां तुझे प्रणाम कार्यक्रम के लिए धन्यवाद दिया।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com