भोपाल : मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां एक 19 साल की महिला ने आरोप लगाया है कि उसे 15 दिनों तक एक अपार्टमेंट के फ्लैट में बंद करके रखा गया और गैंगरेप किया गया।

गैंगरेप का आरोप महिला ने चार लोगों पर लगाया है इनमें से दो नाबालिग हैं। घटना रविवार को तब सामने आई जब पीड़ित महिला किसी तरह कमरे से निकलकर फ्लैट की बालकनी तक आई और पड़ोसी से मदद मांगी। पड़ोसी ने पुलिस को सूचना दी जिसके बाद महिला को रेस्क्यू कराया गया।

पुलिस ने बताया कि उत्तर प्रदेश की रहने वाली महिला का विवाह हरियाणा के रहने वाले एक आदमी से दो साल पहले हुआ था। पति से झगड़े के बाद महिला अपने माता-पिता के पास आकर रहने लगी। दो महीने पहले वह हबीबगंज में रहने वाली अपनी नानी के घर ममेरी बहन से मिलने आई थी।

रोज करते थे रेप

15 सितंबर को उसकी अपनी नानी से किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। वहां से निकलकर वह बहुमंजिला इमारत में रहने वाले अपने मामा के यहां गई। उसके मामा घर पर नहीं थे, इसलिए वह छत पर जाकर उनका इंतजार करने लगी।

महिला का आरोप है कि रात में लगभग 8 बजे एक 17 वर्षीय लड़का उसके बाद आया और उससे बातें करने लगा।

महिला का आरोप है, ‘लड़के ने अचानक मेरी नाक पर एक रुमाल रखा, उसके बाद मैं बेहोश हो गई। जब मुझे होश आया तो मैं एक फ्लैट के अंदर थी।’ पुलिस ने बताया कि यह फ्लैट मनीष नाम के युवक का है।

आरोप है कि मनीष (20) ने महिला के साथ तीन बार रेप किया। वहीं दूसरे 16 वर्षीय लड़के ने भी उसके साथ उसी रात रेप किया। वे लोग उसके साथ रोज रेप करते और जब घर के बाहर जाते तो उसे ताले में बंद कर देते।

बार-बार होता रहा रेप

महिला का आरोप है कि 16 सितंबर को वे लोग उसे बेहोश करके उसी बिल्डिंग में अपने एक दूसरे दोस्त विशाल के फ्लैट में ले गए और वहां उसके साथ विशाल ने भी तीन बार रेप किया। विशाल के घर पर एक गोलू नाम का युवक था, उसने भी महिला के साथ रेप किया।

पीड़िता का आरोप है कि 29 सितंबर को गोलू उसे अपने एक अन्य दोस्त राहुल के घर ले गया और वहां उसका रेप किया। 30 सितंबर को वह किसी तरह कमरे से निकलकर बालकनी में आई और वहां पड़ोस में खड़ी एक महिला को देखा। उसने महिला से आप बीती बताकर मदद मांगी।

महिला ने हबीबगंज पुलिस को घटना की सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने पीड़िता को फ्लैट से निकाला और थाने लाई।