Home > India News > पाकिस्तान: डेढ़ महीने में इंसाफ, बलात्कारी को सजा-ए-मौत

पाकिस्तान: डेढ़ महीने में इंसाफ, बलात्कारी को सजा-ए-मौत

पाकिस्तान ने रेप के बाद हत्या की शिकार मासूम जैनब को महज डेढ़ महीने में इंसाफ दिया है। पाकिस्तान की एक अदालत ने जैनब के बलात्कारी और हत्यारे इमरान को सजा-ए-मौत मुकर्रर की है। पाकिस्तान की एक आतंकरोधी अदालत ने इस केस के मुख्य अभियुक्त इमरान अली को चार आरोपों के तहत मौत की सजा, एक उम्र कैद, सात साल की कैद और 20 लाख रुपये का जुर्माना सुनाया है। शनिवार (17 फरवरी) को कोर्ट लखपत के लाहौर सेंट्रल जेल में जज ने सजा का ऐलान किया। इमरान अली को कोर्ट ने चार मौत की सजा अपहरण, रेप, मर्डर और एंटी टेरररिज्म की धारा-7 के तहत आतंक की गतिविधि के लिए सुनाई। उम्र कैद और 10 लाख रुपये का जुर्माना अप्राकृतिक सेक्स के लिए लगाया गया। जबकि 7 साल की कैद और 10 लाख रुपये का जुर्माना जैनब की बॉडी को कूड़े के ढेर में छुपाने के लिए लगाया गया है। सरकारी वकील एहतेशाम कादिर ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि आरोपी को अपना बचाव करने के लिए सभी मौके दिये गये, लेकिन उसने अपने अपराध को स्वीकार किया। दोषी इमरान के खिलाफ अब ऊपरी अदालत में अपील के लिए 15 दिन का वक्त है। मुकदमे की कार्यवाही को देखने के लिए मासूम जैनब के पिता हाजी मुहम्मद अमीन भी कोर्ट लखपत पहुंचे थे। इस दौरान सेंट्रल जेल के पास सुरक्षा के जबर्दस्त इंतजाम किये गये थे।

बता दें कि पिछले महीने में पाकिस्तान में 6 साल की मासूम जैनब की रेप और हत्या के बाद अप्रत्याशित प्रतिक्रिया देखने को मिली। पाकिस्तान की आम जनता में इस रेप कांड के खिलाफ जबर्दस्त गुस्सा देखने को मिला था। पंजाब प्रांत में पुलिस के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन हुए। पाकिस्तान में इस रेप के खिलाफ उबला लोगों का गुस्सा भारत के निर्भया कांड जैसा ही था। पाकिस्तान की जनता ने केस के लिए पुलिस की निष्क्रियता को जिम्मेदार ठहराया और कई शहरों में हिंसक प्रदर्शन किये। कसूर शहर के उपायुक्त कार्यालय पर गुस्सैल भीड़ ने डंडों और पत्थरों के साथ धावा बोल दिया, जिसमें दो लोगों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए।

यह घटना पिछले एक साल में शहर में दो किलोमीटर के दायरे में होने वाली 12वीं घटना थी। इस लिहाज से भी लोग क्रोध से भड़के हुए थे। जैनब 4 जनवरी को रोड कोट इलाके में अपने घर के पास ही ट्यूशन गई थी, जिसके बाद उसे अपहृत कर लिया गया था। बाद में जैनब के परिवार को एक वीडियो फूटेज मिला, जिसमें वह किसी अजनबी के साथ पीरोवाला रोड पर नजर आई थी। यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था। 9 जनवरी को एक पुलिस कॉन्सटेबल को कूड़े के ढेर से बच्ची का शव मिला था। जैनब के कातिल को पंजाब सरकार ने 23 जनवरी को गिरफ्तार करने का दावा किया था।जैनब के लिए इंसाफ की मांग पाकिस्तान में आंदोलन का रूप बन गया था। वकील, डॉक्टर, पत्रकार, सिविल सोसायटी समेत समाज के सभी वर्गों ने इस नृशंस कांड की निंदा की। पाकिस्तान ने जैनब के गायब होने के बाद डेढ़ महीने से भी कम समय में दोषी को मौत की सजा सुनाई है।

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .