Home > India > हिन्दुओ की घटती जनसंख्या पर लखनऊ में चिंता

हिन्दुओ की घटती जनसंख्या पर लखनऊ में चिंता

uttar pradesh

लखनऊ- अगर हम आज नहीं जागे तो मिट जायेगे। हिन्दुओ की तेजी से घटती जनसंख्या पर आज उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में गहरी चिंता जताई गई। ये विचार आज भारत रक्षा मंच- उत्तर प्रदेश द्वारा “भारत में हिन्दू अस्तित्व पर संकट” विषय पर आयोजित एक विचार गोष्ठी में उठाये गये।

कार्यक्रम के मुख्य वक्ता सूर्यकान्त केलकर, राष्ट्रीय सयोजक भारत रक्षा मंच ने बंगलादेश, पाकिस्तान के साथ कश्मीर में हिन्दुओ की घटती जनसँख्या पर बड़े गंभीर सवाल उठाये, उन्होंने अपने उद्बोधन में देश के बटवारे का जिक्र करते हुए कहा की इस बटवारे से सबसे ज्यादा नुकसान हिन्दुओ को हुआ है, जिस पर आज तक किसी भी सरकार ने कोई चिंता नहीं जताई।

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे पूर्व सांसद, राज्यसभा, भारत रक्षा मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष रघुनन्दन शर्मा जी ने यहाँ बड़ी संख्या में मौजूद लोगो में चेतना फूकने का काम किया, उन्होंने देश के अंदर हिन्दुओ की घटती जनसँख्या को सरकारों की एक शोची समझी शाजिश बताया।

शर्मा ने हिन्दुओ को एक जुट होकर अपनी जनसँख्या बढ़ाने पर बल देने की बात कही। कार्यक्रम के आयोजक एवं उत्तर प्रदेश प्रभारी, अमित पाण्डेय को सर्वसम्मति से उत्तर प्रदेश में जल्द ही समस्त जिलो में संगठन के निर्माण की जिम्मेदारी दी गई। कार्यक्रम में वरिष्ठ अधिवक्ता हरीशंकर जैन, रंजना बाजपाई ने भी हिन्दुओ का बढ़ता अपमान पर गहरी चिंता जताई।

भारत रक्षा मंच के आज के कार्यक्रम में गोष्टी के साथ वरिष्ठ फोटोग्राफर मनमोहन शर्मा की “पर्यावरण विनाश” पर एक फोटो प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया। प्रदर्शनी का उद्घाटन स्वामी मधुसूदन ने किया। प्रदर्शनी में बड़ी संख्या में चित्रो का प्रदर्शन किया गया।

आज के इस कार्यक्रम में भाजपा के भारत दीक्षित, पूर्व एम.एल.सी. विंध्यवासिनी कुमार, रत्नेश मौर्य, सुशील तिवारी, डॉ. अलोक शुक्ल, अदित्त पाण्डेय सहित काफी बड़ी संख्या में यूवाओ, महिलाओ ने भाग लिया।

रिपोर्ट:- शाश्वत तिवारी

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com