yamuna-aarti-in-delhi-cm-arvind-kejriwalनई दिल्ली – मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के कल्चरल हैरिटेज को बढ़ावा देने के मकसद से यमुना आरती आयोजित कर यमुना को साफ करने का संकल्प लिया। आरती की शुरूआत सर्वधर्म प्रार्थना से की गई।

आरती के बाद संगीत, नृत्य तथा अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इसमें घाट किनारे पर कलाकारों ने रेत से दिल्ली का जीवंत चित्रण किया। शुक्रवार की शाम यमुना नदी के तट पर नृत्य-संगीत और आरती से रौनक छा गई। उड़ीसा के प्रसिद्ध कलाकार सुदर्शन पटनायक ने घाट किनारे रेत से स्वच्छ यमुना अभियान को लेकर बनाई में आकृति में यमुना को मां के रूप में दिखाया। साथ ही इंडिया गेट, लोटस टेम्पल आदि अन्य ऐतिहासिक व दर्शनीय स्थलों की आकृति भी रेत से बनाई गई।

यमुना आरती की शुरुआत करते हुए सीएम केजरीवाल ने कहा कि आम आदमी पार्टी की सरकार यमुना नदी को स्वच्छ और पवित्र बनाने के लिए लगी हुई है। उन्होंने पर्यटन मंत्री कपिल मिश्रा को यमुना आरती का श्रेय देते हुए कहा कि आने वाले समय में हम सच में यमुना को बेहतर बनाकर दिखाएंगे। आने वाले कुछ दिनों में 24 घंटे सातों दिन यमुना की निगरानी की जाएगी। ताकि इसमें कोई भी गंदगी नहीं आ सके। इसके साथ ही कोई भी बिना ट्रीट किए हुए गंदा पानी, औद्योगिक या घरेलू सीवेज यमुना में नहीं गिरा पाएगा।

केजरीवाल ने कहा कि यमुना नदी ने भारतीय इतिहास के साथ-साथ नई दिल्ली के इतिहास से भी जुड़ी हुई है। इसे साफ करने के लिए सभी लोगों को साथ देने की जरूरत है। हर दिल्लीवासी को यमुना को साफ करने का संकल्प लेना होगा ताकि आने वाले दिनों में यमुना एक बार फिर से जीवंत सुंदर व जीवनदायी नदी का रूप ले सकें। उन्होंने कहा कि अगले 3 वर्षों में यमुना को पूरी तरह स्वच्छ कर दिया जाएगा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here