श्रीनगर- जम्मू कश्मीर के अलगाववादी नेता यासीन मलिक को गिरफ्तार कर लिया गया है। यासीन मलिक पश्चिमी पाकिस्तान के शरणार्थियों को भारत की नागरिकता दिये जाने का विरोध कर रहा था। यासीन इन शरणार्थियों को नागरिकता दिये जाने के खिलाफ उग्र प्रदर्शन कर रहा था।

FILE PIC
FILE PIC

जम्मू-कश्मीर लिबरल फ्रंट का चेयरमैन यासीन मलिक शरणार्थियों को नागरिकता के खिलाफ जुम्मे की नमाज के बाद श्रीनगर में विरोध प्रदर्शन करते हुए मार्च निकाल रहा था। पुलिस ने यासिन मलिक और उसके समर्थकों को गिरफ्तार कर लिया है। मलिक और उसके समर्थकों पर सीआरपीसी की धारा 144 को तोड़ने का आरोप है।

पुलिस ने किसी हिंसक वारदात से निपटने के लिए पूरे इलाके में धारा 144 लागू कर दी है, जिसके बाद लोगों को एक साथ इकट्ठा होने पर रोक लगा दी गयी है। पुलिस ने यह कार्यवाही उस वक्त की जब यासीन मलिक के समर्थकों ने पुलिस के उपर पत्थर फेंकने शुरु कर दिये। हालांकि इस पत्थरबाजी में किसी को गंभीर चोट नहीं हैं।

गौरतलब है कि हजारों शरणार्थी जो कि पाकिस्तान से विस्थापित होकर जम्मू में 1947,1965,1971 की जंगों के बाद भारत आये हैं वह भारत की नागरिकता की मांग करते आये हैं। वहीं इस मामले के समाधान के लिए साझा संसदीय कमेटी का निर्माण किया गया है जोकि इन लोगों को भारत की नागरिकता दिये जाने के मामले पर अपना राय देगी। हालांकि इन लोगों को संसदीय चुनाव में वोट देने का अधिकार दिया गया है लेकिन अभी भी इन्हें प्रदेश के चुनावों में हिस्सा लेने का अधिकार नहीं दिया गया है।-एजेंसी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here