शपथ से पहले ही एक्शन में योगी, समारोह स्थल का जायजा लेने पहुंचे

लखनऊ : शनिवार को विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद योगी आदित्यनाथ रविवार को राज्य के मुख्यमंत्री रूप में शपथ लेंगे। उनके साथ केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे इस मौके पर पीएम मोदी के अलावा कई बड़े नेता मौजूद रहेंगे। भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच लखनऊ के स्मृति उपवन में दोपहर 2.15 बटे शपथ ग्रहण कार्यक्रम होगा।

शपथ ग्रहण से पूर्व ही योगी सुबह 8 बचे स्मृति उपवन पहुंचे और तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे। उन्होंने यहां अधिकारियों से भी बात की। इसके बाद योगी के गोरखपुर जाने की खबर है। जानकारी के अनुसार वो गोरखपुर मंदिर में पूजा करने के बाद अपने गुरु महंत अवेद्यनाथ की समाधि पर पुष्प चढ़ाएंगे। इसके बाद वह गोशाला में भी जायेंगे जहाँ गायों को दाना खिलाएंगे। उनके आने की सूचना से मन्दिर परिसर में अभी से बड़ी संख्या में समर्थक एवम् भाजपा कार्यकर्ता पहुंच गए हैं।

शपथ ग्रहण के लिए भारी सुरक्षा व्यवस्था के लिए सात एसपी और 24 एएसपी समेत 34 कंपनी फोर्स समेत पुलिस का जबरदस्त अमला तैनात रहेगा। योगी बुलेट प्रूफ कार में आएंगे। मंत्रियों के लिए स्कोर्ट वाहन, शैडो और गनर के लिए डीजीपी को हिदायत दी गयी है।

अतिथियों के लिए श्रेणीवार दीर्घा बनाई गई है। हर निमंत्रण पत्र में शपथ ग्रहण स्थल के किस दीर्घा में स्थान ग्रहण किया जाना लिखा है। मुख्यमंत्री, मंत्री के लिए अलग दीर्घा और उनके परिवार और रिश्तेदारों के बैठने के लिए अलग श्रेणी की व्यवस्था होगी। शासन स्तर पर इस आयोजन को भव्य रूप देने के लिए तैयारी पूरी हो गई है। शपथ ग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, कई केंद्रीय मंत्री, दर्जन भर राज्यों के मुख्यमंत्री, उद्योगपतियों समेत अति विशिष्ट अतिथियों के आने के संकेत मिले हैं। राजभवन की ओर से मानक सूची के अनुसार विशिष्ट अतिथियों को निमंत्रण पत्र निर्गत होंगे। मनोनीत मुख्यमंत्री एवं मंत्रियों के रिश्तेदारों, मित्रों एवं अन्य राजनीतिक दलों के नेताओं के लिए भी आमंत्रण पत्र जाएंगे।

प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को देखते एसपीजी की टीम लखनऊ में है। एडीजी दलजीत सिंह चौधरी के मुताबिक सुरक्षा के लिए सात पुलिस अधीक्षक, 24 अपर पुलिस अधीक्षक, 50 उपाधीक्षक, 550 दारोगा-इंस्पेक्टर, 3370 सिपाही, 18 कंपनी केंद्रीय अद्र्धसैनिक बल, 16 कंपनी पीएसी और 500 यातायात पुलिसकर्मी लगाए गये हैं। शपथ ग्रहण समारोह स्थल पर भव्य मंच और पंडाल लगेगा। डीएम और एसएसपी को सोफे, कुर्सियों, माइक, पंखों के अलावा बैरीकेडिंग, वाटर प्रूफ शामियाने की व्यवस्था के निर्देश दिए गये हैं। समारोह स्थल पर वीवीआइपी श्रेणी के लिए निर्धारित दीर्घा के अलावा 70 हजार कुर्सियों की व्यवस्था के निर्देश दिए गये हैं। समारोह स्थल पर कई प्रवेश द्वार बनाये जाएंगे। शपथ ग्रहण समारोह स्थल पर राष्ट्रीय गान होगा। इसके लिए पीएसी बैंड को अधिकृत किया गया है। जिम्मेदारी एसएसपी को दी गयी है।

यूपी सीएम रूप में शपथ लेने से पहले ही योगी एक्शन में आ गए हैं। उन्होंने यूपी डीजीपी से कहा है कि जश्न के नाम पर किसी तरह का भी हुड़दंग बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।