Coronavirus: यूपी के 15 जिलें पूरी तरह सील, ज़रूरी सामानों की होगी होम डिलीवरी

योगी सरकार ने राज्य में बढ़ रहे कोरोना मरीजों को देखते हुए बुधवार को 15 जिलों को सील करने का फैसला लिया है। इन 15 जिलों में लगातार जमातियों या उनके संपर्क में आए लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आ रही है। ये जिले बुधवार रात 12 बजे से 15 अप्रैल तक के लिए सील किए गए हैं। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि, जहां-जहां लॉकडाउन किया गया है, वहां कोरोना के मामले घटे हैं।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में कोरोना के मरीजों की लगातार बढ़ रही संख्या को देखते हुए योगी सरकार ने राज्य के 15 जिलों के कोरोना हॉटस्पॉट एरिया को 15 अप्रैल तक के लिए पूरी तरह से सील करने का फैसला लिया है। यह आदेश आज रात 12 बजे से लागू हो जाएगा। इन जिलों में सबसे ज्यादा पश्चिमी यूपी के जिले हैं। जिनमें कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा मामले निकलकर सामने आए हैं। प्रमुख सचिव ने बताया कि, 15 ज़िले हैं जहां कोरोना का लोड अधिक है और इन इलाक़ों में कम्यूनिटी स्प्रेड रोकने के लिए ऐसा करना ज़रूरी है।

योगी सरकार ने राज्य में बढ़ रहे कोरोना मरीजों को देखते हुए बुधवार को 15 जिलों को सील करने का फैसला लिया है। इन 15 जिलों में लगातार जमातियों या उनके संपर्क में आए लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आ रही है। ये जिले बुधवार रात 12 बजे से 15 अप्रैल तक के लिए सील किए गए हैं। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि, जहां-जहां लॉकडाउन किया गया है, वहां कोरोना के मामले घटे हैं। आगरा में इसे शुरुआत में कुछ इलाकों में किया गया था। इन 15 जिलों में हॉटस्पॉट को चिह्नित किया जाएगा। बिजली और सफाई की व्यवस्था अच्छी होगी। कोई भी व्यक्ति न तो इस इलाके से आ सकेगा और न जा सकेगा। लोगों से इस मामले में सहयोग अपेक्षित है। इन 15 जिलों में पूरी सख्ती की जाएगी। अभी 3 बजे बैठक, डीएम, एसपी और पुलिस कमिश्नर के साथ प्लान बनाना है।

राज्य में मंगलवार को कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या पहुंची 332 पहुंच चुकी है और अब भी ये आंकड़ें लगातार बढ़ते दिखाई दे रहें हैं, 332 में से आधे से ज्यादा मरीज तबलीगी जमात से जुड़े हुए हैं। वहीं प्रदेश में कोरोना के चलते तीन लोगों की मौत हो चुकी है। 332 में से 27 को रिकवर होने के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है। राज्य में कोरोना पॉजिटिव के सर्वाधिक 62 मामले आगरा में है।