जिंदगी में सिर्फ एक बार नहाने से खूबसूरत है यहाँ की महिलाएं

कई लोग ​होंगे जिन्हें रोज-रोज नहाना पंसद नहीं।लेकिन क्या आप जानते हैं कि दुनियां में ऐसी महिलाएं भी हैं जो पूरी जिंदगी में सिर्फ एक बार नहाती हैं। अपनी पूरी जिंदगी में सिर्फ एक बार नहाने की बजाए इन महिलाओं को सबसे खूबसूरत महिलाएं माना जाता है। महिलाओं ने खुद को साफ-सुथरा रखने के लिए एक अनोखा तरीका निकाल लिया है जिसे सुन कर आप भी ​जरूर हैरान हो जाएंगे।

जी हां, हम बात कर रहें हैं अफ्रीका के नार्थ नामीबिया के कुनैन प्रांत में रहने वाली हिम्बा जनजाति की महिलाओं की। अफ्रीका की इस जनजाति में रहने वाली हिम्बा ट्राइब की महिलाओं को नहाने की इजाजत नहीं है। वहां की ​महिलाओं को हाथ तक धोने के लिए पानी इस्तेमाल करने की मनाही है। उनकों सिर्फ एक दिन नहाने की इजाजत है वो भी अपनी शादी के समय।

अपनी पूरी जिंदगी में सिर्फ एक बार नहाने की बजाए इन महिलाओं को अफ्रीका की सबसे खूबसूरत महिलाएं माना जाता है। हिम्बा ट्राइब की महिलाओं ने खुद को साफ-सुथरा रखने के लिए एक अनोखा तरीका निकाल लिया है जिसे सुन कर आप भी ​जरूर हैरान हो जाएंगे।

दरअसल, ये ​महिलाएं अपने आप को फ्रेश रखने के लिए एक खास तर​ह की जड़ी-बूटी का इस्तेमाल करतीं है। अपनी बॉडी को फ्रेश रखने और बदबू ना आए इसलिए वह महिलाएं नहाने की जगह उस जड़ी-बूटियों को पानी में उबाल कर उसके धुंए का इस्तेमाल करती है। इसकी खुशबू से कभी ना नहाने के बाद भी हिम्बा जनजाति की महिलाएओं की बॉडी से सुंगध आती रहती है।

इन महिलाओं को रेड वुमन के नाम से भी जाना जाता है। इस खास तरह के नाम से जानें जाने का भी एक अलग वजह है। हिम्बा जनजाति की महिलाएं धूप से बचने के लिए एक अलग तरह के लोशन का प्रयोग करती हैं।

हेमाटाइट (लोहे की तरह एक खनिज तत्व)की धूल और जानवर की चर्बी से तैयार किया जाता है। यह लोशन उनकों कीड़ों और मच्छरों के काटने से भी बचाता है। हेमाटाइट की धूल की वजह से उनके त्वचा का रंग लाल हो जाता है जिस वजह से उन्हें रेड वुमेन के नाम से भी जाना जाता है।