गांधी की हत्या : BJP और RSS पर भड़की हिंदू महासभा

1948 में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की हत्या के मामले में अदालत की मदद के लिए सुप्रीम कोर्ट की ओर से सलाहकार (अमीकस क्यूरी) नियुक्त किए जाने के बाद हिंदू महासभा ने बीजेपी और आरएसएस को इस मसले से दूर रहने को कहा है।

हिंदू महासभा का कहना है कि बीजेपी और आरएसएस जानबूझकर चौथी गोली की थिअरी पैदा कर इस मामले को उलझाना चाहती है।

हिंदू महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अशोक शर्मा ने कहा, ‘यह हर किसी को पता है कि महासभा के नाथूराम गोडसे ने ही बापू की हत्या की थी। यह हमारी विरासत है। बीजेपी और आरएसएस इसे हमसे नहीं छीन सकती है। उसे तो हिंदू महासभा का विचार अपनाने के लिए आभारी होना चाहिए।

बापू की हत्या में चौथी गोली की बात कर दोनों सगठन संशय पैदा कर रहे हैं। ऐसे में उनके चेहरे पर से मुखौटे हटाने का वक्त आ गया है। नाथूराम गोडसे का हिंदू महासभा से अभिन्न रिश्ता था। अब बीजेपी और आरएसएस गोडसे को किनारे कर महात्मा गांधी से संबंधित सारा क्रेडिट खुद लेना चाहती है। उन्हें पता है कि गोडसे को हटाकर महासभा अधिकारहीन हो जाएगी। हम ऐसा नहीं होने देंगे।’