राहुल गांधी ने PM मोदी पर कसा तंज, कहा – निर्मला सीतारमण को बर्खास्त करिए, आप जिम्मेदारी से बच जाएंगे

नई दिल्ली : पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर देश की आर्थिक व्यवस्था को लेकर निशाना साधा है।

उन्होंने एक फरवरी को संसद में पेश किए गए आम बजट पर तंज कसा और कहा कि अर्थव्‍यवस्‍था ध्‍वस्‍त हो गई है और आपको ये सोचना चाहिए कि इस तोहमत से आप खुद को कैसे बचाएं।

राहुल गांधी ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट किया और लिखा, ”डियर प्रधानमंत्री, अर्थव्‍यवस्‍था ध्‍वस्‍त हो गई है और आपको ये सोचना चाहिए कि इस तोहमत से आप खुद को कैसे बचाएं। बेखबर निर्मला जी द्वारा पेश की गई बकवास बजट का उपयोग कीजिए। उन्‍हें हटाइए और सारा दोष उनके ऊपर थोप दीजिए। समस्‍या का समाधान हो जाएगा।”

गौरतलब है कि कांग्रेस ने मंगलवार को अपने शीर्ष नेताओं मनमोहन सिंह, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को दिल्ली में चुनाव प्रचार के लिए उतारा।

साथ ही, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पीएसयू की तरह ताजमहल भी बेच सकते हैं। राहुल ने जंगपुरा और संगम विहार में दो रैलियों को संबोधित किया, जबकि उनकी बहन और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी ने उनकी दूसरी रैली में उनके साथ मंच साझा किया।

दोनों भाई-बहन ने मोदी एवं भाजपा तथा अरविंद केजरीवाल एवं आप पर घृणा फैलाने और रोजगार के लिए कुछ नहीं करने का आरोप लगाया।

ऐसा पहली बार है कि दिल्ली चुनाव के प्रचार अभियान में कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व अपने उम्मीदवारों के लिए प्रचार के लिए उतरे हैं।

सोमवार को केवल राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने चुनावी रैलियों को संबोधित किया था।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने मंगलवार को कहा कि यह शर्म की बात है कि पढ़े लिखे होने के बावजूद हमारे युवकों को रोजगार के लिए भटकना पड़ता है और ऐसे में यदि दिल्ली में कांग्रेस सत्ता में आती है तो बेरोजगारी से निपटने के लिए ‘ठोस कदम’ उठाये जायेंगे।

मशहूर अर्थशास्त्री मनमोहन सिंह ने यह भी कहा कि दिल्ली में बेरोजगारी की दर पिछले चार महीने में 15 फीसद थी जो अन्य स्थानों की तुलना में बहुत ज्यादा है।

भाजपा और ‘आप’ पर समाज में नफरत फैलाने का आरोप लगाते हुए राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की दिलचस्पी नौजवानों को नौकरी देने में नहीं है। इसके उलट वे सत्ता में रहने के लिए एक भारतीय को दूसरे भारतीय से लड़ाना चाहते हैं।

दिल्ली में विधानसभा चुनाव से पहले अपनी पहली रैली में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि देश का मौजूदा माहौल, नफरत, हिंसा और महिलाओं पर हमले से भारत को नुकसान पहुंच रहा है और लोगों को इससे फायदा नहीं हो रहा है।

राहुल गांधी ने आर्थिक मंदी और बेरोज़गारी के मुद्दे से नहीं निपटने और हिंसा को बढ़ावा देने के लिए भाजपा को आड़े हाथों लिया।