eye oparetionअंबाला- हरियाणा के हेल्थ मिनिस्टर अनिल विज के असेंबली क्षेत्र में मोतियाबिंद के ऑपरेशन के बाद 15 लोगों की एक आंख की रोशनी चले जाने का मामला सामने आया है। सभी पेशेंट में इन्फेक्शन की बात सामने आने के बाद उन्हें चंडीगढ़ के पीजीआई रेफर कर दिया गया।

हेल्थ कैम्प में हुआ था ऑपरेशन
अंबाला के महेश नगर में चैरिटेबल ऑर्गनाइजेशन ने 24 नवंबर को एक आई कैम्प लगाया था। इस कैम्प में कई लोगों के आंखों के ऑपरेशन किए गए। इनमें से 15 मरीजों की एक-एक आंख की रोशनी चली गई है।

पट्टी खोलने के बाद पता चला
दरअसल, सर्जरी के एक दिन बाद 25 नवंबर को जब इन मरीजों की आंखों से पट्टियां खोली गईं, तो 15 ने कुछ भी दिखाई न देने की शिकायत की। कैम्प के आयोजकों ने आनन-फानन में इन्‍हें पीजीआई, चंडीगढ़ पहुंचाया, जहां उनका इलाज किया जा रहा है। पानीपत में भी गई थीं 13 लोगों की रोशनी कुछ महीने पहले पानीपत के समालखा कस्बे में मोतियाबिंद के ऑपरेशन में 13 लोगों की आंख की रोशनी चली गई थी।

अब क्या कर रही है सरकार?
मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा- मामला गंभीर है, इसलिए तुरंत हेल्थ मिनिस्टर को मौके पर भेजा गया है। पीड़ितों का हालचाल जानने के लिए हेल्थ मिनिस्टर अनिल विज चंडीगढ़ पीजीआई पहुंचे। विज का कहना है कि इस मामले की जांच के लिए एक कमेटी बनाई गई है। जल्द से जल्द रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here