Home > India > 500 और 1000 रुपये के नोट बंद होने के बाद सोने में उछाल

500 और 1000 रुपये के नोट बंद होने के बाद सोने में उछाल

indian-money-and-goldमुम्बई – कालाधन खत्म करने के लिए पीएम मोदी के फैसले और अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में ट्रंप की बढ़त से सोने की कीमतों में जबरदस्त उछाल आया है। बुधवार को गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड के कारोबार के दौरान 3 फीसदी तक बढ़त देखने को मिली. ग्लोबल इक्विटी मार्केट में तेज गिरावट की वजह से इन्वेस्टर्स ने सोने में इन्वेस्टमेंट बढ़ा दिया है। एचडीएफसी गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड 3 फीसदी बढ़कर 2900 रुपये प्रति ग्राम के स्तर पर पहुंच गया है। फिलहाल सोना 4 फीसदी की तेजी के साथ 30,900 रुपये पर कारोबार कर रहा है।

कालाधन पर लगाम लगाने के लिए मोदी सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए मंगलवार आधी रात से 500 और 1000 रुपये के नोट बंद कर दिए हैं. इसके बाद सोने के दाम में उछाल आया है। मुंबई में प्रति 10 ग्राम सोने की कीमत में 4000 रुपये का इजाफा हुआ है।

रिपोर्ट के मुताबिक, भारत का कालाधन 30 लाख करोड़ तक पहुंच गया है, जो जीडीपी का 20 फीसदी है. हालांकि, फिलहाल 16.6 लाख करोड़ कालाधन ही सर्कुलेशन में है। एक्सपर्ट की मानें, तो ये कालाधन ज्यादातर सोने या रियल एस्टेट इन्वेस्टमेंट के रूप में है. कालेधन पर 2012 में प्रकाशित वित्त मंत्रालय के श्वेत पत्र में यह कहा गया कि भारतीय अर्थव्यवस्था में रियल एस्टेट कुल जीडीपी का 11 फीसदी शेयर करता है।

एक्सपर्ट का कहना है कि मोदी सरकार का ये फैसला सोने और रियल एस्टेट ट्रांसएक्शन पर असर जरूर डालेगा। यूपी और पंजाब में चुनाव नजदीक हैं. कैंपेनिंग के लिए राजनीतिक पार्टियां खूब पैसा बहा रही हैं. माना जा रहा है कि मोदी सरकार का ये फैसला राजनीतिक पार्टियों के चुनाव में खर्च को भी प्रभावित करेगा।





Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com