Amitabh Narayan Sinha  uttar pradesh#लखनऊ – सोसायटी आॅफ कॅरियर टेक्नोलाॅजी (सोक्ट) ने यहां स्टार्टअप देवरिया को शुरू कर जिले के युवाओं को रोजगार के लिये प्रोत्साहित और शत-प्रतिशत बेरोजगार मुक्त बनाने के लिये जिले के ग्राम मुगलपुरा को गोद लेने वाले बैंक अधिकारी अमिताभ नारायण सिन्हा को सोक्ट प्रतिभा सम्मान से सम्मानित किया। यहां प्रेस क्लब में आयोजित समारोह में उन्हें सोसायटी के चेयरमैन डा. अगम दयाल ने स्मृति चिन्ह प्रदान किया।

बेरोजगार मुक्त बनाने के लिये मुगलपुरा गांव को लिया गोद

इस मौके पर चैयरमैन श्री दयाल ने बताया कि पंजाब नैशनल बैंक में अधिकारी होने के साथ अमिताभ नारायण सिन्हा ने स्टार्टअप देवरिया की शुरूआत की है जिसके जरिये बेरोजगार युवाओं के बीच जाकर न सिर्फ उसे रोजगार के लिये प्रेरित कर रहे है बल्कि उन्हें बैक से ऋण उपलब्ध कराने के साथ उसके व्यवसाय को आगे बढ़ाने के लिये मार्केटिंग योजना तैयार करना और बाजार में उसे स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे है, और इस स्टार्टअप देवरिया के जरिये कई युवाओं को लाभान्वित होकर रोजगार की राह पर आ चुके है।

इस मौके पर सम्मानित होने के बाद श्री सिन्हा ने बताया कि उन्होंने देवरिया के गांव मुगलपुरा को शत-प्रतिशत बेरोजगारमुक्त गांव बनाने का संकल्प लिया है और इसकी शुरूआत भी की जा चुकी है। इसके लिये पांच समूहों को तैयार कराकर व्यवसाय भी शुरू कराया जा चुका है। इसके अलावा सैकड़ों लोगों को पचास हजार से लेकर 25 लाख रूपये का ऋण बैंक से उपलब्ध कराकर सैकड़ों लोगों का कारोबार शुरू करवा चुके है, जिसमें लखनऊ का भी महिला परिधानों का ब्राण्ड ‘जेजे दिवा’ भी शामिल है।

श्री सिन्हा ने उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुये बताया कि स्टार्टअप इण्डिया को सार्थक करने के लिये जिलों में ही युवाओं का पलायन रोककर वहीं रोजगार उपलब्ध कराने के लिये जिम्मेदार अधिकारियों को आगे आना होगा। रिपोर्ट @शाश्वत तिवारी