Mohammad Azam Khanगाजीपुर- आजम खान विवादित बयान आया है जिसके मुताबिक क्या  ”दाऊद लाहौर में मोदी-नवाज की बैठक के दौरान मौजूद था ? जीहां उत्तर प्रदेश के नगर विकास मंत्री आजम खां ने दावा किया कि अचानक पाकिस्तान दौरे के क्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वहां छिपे मोस्टवांटेड अपराधी दाऊद इब्राहिम से भी मिले थे।

आजम ने कहा, “बादशाह (मोदी) कहें तो सबूत के रूप में फोटोग्राफ भी दिखा सकता हूं। नवाज शरीफ के यहां उनकी मां से मोदी की मुलाकात के दौरान साथ में अडानी और जिंदल भी थे।” गाजीपुर जिले के करंडा क्षेत्र के बड़सरा गांव स्थित इंटर कालेज के वार्षिक समारोह में शामिल होने आए आजम ने हेलीपैड पर पत्रकारों से यह बात कही।

आजम ने केंद्र सरकार को ‘डील वाली’ सरकार बताते हुए कहा कि वाराणसी तो क्योटो नहीं बन पाया, लेकिन जापान के पीएम इसी नाम पर हजारों करोड़ रुपये की ‘डील’ करके चले गए। आजम खां ने यह भी कहा, “हमारे पीएम पाक के पीएम को पश्मीना शॉल और मलिहाबादी आम भेजते हैं तो वहां से सीक कबाब आता है। इसके भी मेरे पास सबूत हैं।..कबाब लौकी से नहीं बनता।”

स्मार्ट सिटी योजना के बारे में आजम ने कहा कि पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश और बिहार को मोदी सरकार ने इस योजना में इसलिए शामिल नहीं किया, क्योंकि इन राज्यों में भाजपा की सरकार नहीं है।

उप्र में कानून व्यवस्था के हालात का जिक्र करने पर उन्होंने कहा कि भाजपा शासित राज्यों में सबसे ज्यादा अपराध हो रहे हैं। मीडिया पर हमला बोलते हुए आजम ने यहां तक कहा कि मोदी से मिलीभगत के कारण इलेक्ट्रॉनिक मीडिया भाजपा शासित राज्यों में हो रहे अपराधों को नहीं दिखाता।

कैबिनेट मंत्री ने कहा कि नगर विकास का बजट केंद्र सरकार ने 40 फीसदी कम कर दिया है। भाजपा यहां पहले ही हार मान चुकी है, इसीलिए बजट रोक दिए गए हैं। भाजपा को विधानसभा चुनाव लड़ने वाले लोग नहीं मिल रहे हैं। कांग्रेस का यूपी में कुछ बचा नहीं है। बसपा का भी हाल पिछले चुनाव जैसा होगा। [आईएएनएस]