यूपी बजट: हर जिले में बनेगा ‘युवा हब’, युवाओं को ट्रेनिंग के साथ ही हर महीने 2500 रुपये देगी सरकार

युवाओं को उद्योगों व एमएसएमई इकाइयों में ऑन-जॉब ट्रेनिंग देने के लिए उन्हें निश्चित अवधि के रोजगार से जोड़ने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना शुरू की जाएगी। इस योजना के तहत युवाओं को उद्योगों में प्रशिक्षण के साथ-साथ 2500 रुपये मासिक प्रशिक्षण भत्ता भी प्रदान किया जाएगा। योजना के लिए बजट में 100 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।लखनऊ : योगी सरकार ने वर्ष 2020-21 के लिए प्रदेश के इतिहास का अब तक का सबसे बड़ा बजट पेश किया है। जो कि युवाओं को समर्पित है। बजट में युवाओं को रोजगार व स्वरोजगार से जोड़ने के लिए ‘मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना’ और ‘युवा उद्यमिता विकास अभियान’ प्रारम्भ करने का एलान किया गया है।

इसके तहत युवाओं को उद्योगों व एमएसएमई इकाइयों में ऑन-जॉब ट्रेनिंग देने के लिए उन्हें निश्चित अवधि के रोजगार से जोड़ने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना शुरू की जाएगी। इस योजना के तहत युवाओं को उद्योगों में प्रशिक्षण के साथ-साथ 2500 रुपये मासिक प्रशिक्षण भत्ता भी प्रदान किया जाएगा। योजना के लिए बजट में 100 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।

इसके अलावा, प्रशिक्षित युवाओं को युवा उद्यमिता विकास अभियान के द्वारा रोजगार से स्वावलंबन की ओर बढ़ाने के लिए प्रदेश के प्रत्येक जिले में ‘युवा हब’ की स्थापना की जाएगी।

युवा हब रोजगार से जुड़ी परियोजना और परिकल्पना से लेकर एक साल तक वित्तीय मदद प्रदान करने के साथ ही संचालन में भी मदद करेगा। इस योजना के लिए 1 हजार 200 करोड़ रुपये का बजट में प्रावधान किया गया है। इससे प्रदेश के करीब एक लाख युवाओं के लिए रोजगार की राह खुलेगी।