दादरी : गंगाजल और गोमूत्र से पवित्र होगा इकलाख का गांव - Tez News
Home > India News > दादरी : गंगाजल और गोमूत्र से पवित्र होगा इकलाख का गांव

दादरी : गंगाजल और गोमूत्र से पवित्र होगा इकलाख का गांव

Bisahdhaनोएडा – दादरी के बिसाहड़ा में पिछले महीनों हुई हत्‍या और उसके बाद बदले माहौल को ठीक करने के लिए आज बिसाहड़ा को गंगाजल और गोमूत्र से पवित्र किया जाएगा। गांव के मंदिर में पूजा का भी आयोजन किया गया है।

यहां के लोगों का मानना है कि पिछले कुछ समय में गांव में जो कुछ भी हुआ उस वहज से यहां की आब-ओ-हवा पूरी तरह से खराब हो गई है और गांव में सौहार्द और प्रेम का महौल बनाने के लिए यह सब किया जा रहा है। खबरों के अनुसार इस दौरान यहां एक रैली भी निकाली जाएगी जिसमें सभी धर्मों के लोग शामिल होंगे लेकिन प्रशासन इस बात पर चुप्‍पी साधे हुए है।

गौरतलब है कि गांव बिसाहड़ा में कथित गौमांस खाने की अफवाह के बाद इकलाख की हत्या हुई थी। यही वजह है कि गांव को गौमूत्र और गंगाजल छिड़ककर शुद्ध किया जाएगा। गांव वालो का विश्वास है कि इसके बाद पहले की तरह सुख-शांति आएगी। गांव के मंदिर में आई साध्वी हर्षसिद्धि गिरी के जरिये शुद्धीकरण के काम को अंजाम दिया जाएगा।

साध्वी ने शुद्धिकरण के लिए बनारस से 50 लीटर गंगाजल मंगाया है। आज गांव में आराध्य यात्रा निकाल गोमूत्र और गंगा जल का छिड़काव किया जाएगा।

साध्वी का मानना है कि इससे गांव में पहले की तरह शांति रहेगी और लोग सुकून से रह सकेगे। आराध्य यात्रा बिसाहड़ा गांव के मंदिर से शुरू होकर गांव के मुख्य द्वार पर खत्म होगी। शनिवार को साध्वी के साथ गांव की महिलाओं ने बैठक करके आराध्य यात्रा की रूपरेखा तैयार की।

सोमवार सुबह साढ़े दस बजे सबसे पहले मंदिर परिसर में गंगाजल छिड़का जाएगा, इसके बाद पूरे गांव में यात्रा निकालकर छिड़काव होगा।

याद रहे कि बिसाहड़ा गांव में 28 सितंबर की रात गोहत्या की सूचना पर गांव के इकलाख की पीटकर हत्या कर दी गई थी और उसके बेटे दानिश को उपद्रवियो ने अधमरा कर दिया था। घटना के बाद से गांव के सैकड़ो युवा फरार हैं। गांव के शुद्धिकरण और युवाओ को गांव में वापस बुलाने के लिए ग्रामीणो ने साध्वी हर्षसिद्धि गिरी से एक आराध्य यात्रा निकालने का आग्रह किया था। गांव में यात्रा के दौरान पूरे गांव में पुलिस बल मौजूद रहेगा। यात्रा के साथ पुलिस की गाडि़यां भी चलेंगी।

लोगो का कहना है कि आराध्य यात्रा का फायदा तब होगा, जब गांव से गायब युवा वापस घर लौट आएं। पुलिस के डर से गांव से गायब युवा ढाई महीने बाद भी वापस लौटकर नही आए हैं। बीते मंगलवार को गांव में हुई पुलिस की दबिश से गांव में फिर से तनाव व्याप्त हो गया है।

दूसरी तरफ इखलाक के परिवार ने सीबीआई जांच से इन्‍कार कर दिया है। दादरी कांड पर हो रही राजनीति से परेशान परिवार इस मामले में किसी भी तरह की जांच नहीं चाहता है। रविवार को मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ मुलाकात के दौरान इखलाक के परिवार ने इस मामले में किसी भी तरह की जांच न कराने की मांग की।

loading...
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com