भाजपा नेत्री के थे अवैध संबंध, पति ने कर दी हत्या

बीते सप्ताह भाजपा किसान मोर्चा की प्रदेश सचिव मुनेश गोदारा हत्याकांड में पुलिस पूछताछ में आरोपी पति सुनील ने नया खुलासा किया।

आरोपी ने बताया कि मुनेश की वारदात के बाद वह उसी लाइसेंसी रिवॉल्वर से खुदकुशी करना चाहता था। ऐन मौके पर उसके बेटे ने कनपटी से रिवॉल्वर हटा दी। आगे कोई रास्ता नहीं दिखने पर वह फरार हो गया।

पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर लाइसेंसी रिवॉल्वर भी बरामद कर ली जिसका लाइसेंस मुनेश और आरोपी के नाम से था। रविवार को पुलिस ने रिमांड पूरी होने के बाद ड्यूटी मजिस्ट्रेट के सामने पेश कर भोंडसी जेल भेज दिया।

एक दिन कि रिमांड पर आरोपी सुनील गोदारा ने बताया कि उसकी पत्नी के किसी दूसरे से प्रेम-संबंध से वह काफी आहत था। पत्नी मुनेश के नाम से भिवानी के बाढड़ा गांव में स्थित दो प्लॉट थे।

जिन्हें वह जबरन बेचना चाहती थी, इस बात से नाराज होकर उसने मुनेश को गोली मारकर हत्या कर दी। वारदात के वक्त उसके पिता व बेटा-बेटी भी मौके पर उपस्थित थे। बेटी काफी डर गई थी वह कोने में छिपी रही। जबकि बेटा अपने दादा के साथ हॉल में था।

सुनील ने बताया कि वारदात के बाद उसी रिवॉल्वर को उसने कनपटी पर लगाकर खुदकुशी का प्रयास ही कर रहा था कि उसका बेटा आ गया और उसने रिवॉल्वर हटा दी।

वरना वह भी खुद को गोली मार लेता। बेटे और पिता को देखकर सुनील वहां से लाइसेंसी रिवॉल्वर और गाड़ी की चाबी लेकर चला गया।

इसके बाद वह फरार हो गया। पुलिस ने आरोपी से लाइसेंसी रिवॉल्वर बरामद कर ली। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

इस पूरे हत्याकांड में मुनेश के साथ अवैध प्रेम संबंधों को लेकर चर्चा में आए स्थानीय भाजपा नेता बंटी गुर्जर को अब पुलिस मुख्य जांच में शामिल करने की तैयारी कर रही है।

सहायक पुलिस आयुक्त (शहर) राजेंद्र सिंह ने बताया कि मुख्यारोपी से जो जानकारियां मिली है उसके आधार पर आरोपी बंटी गुर्जर को मुख्य जांच में शामिल किया गया है। आरोपी से जल्द ही पूछताछ शुरू की जाएगी।