बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी ने किया CAA विरोध, कहा देश को मत बांटो

CAA को लेकर देशभर में हो रहे विरोध और समर्थन के बीच बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी ने भी इसका विरोध कर दिया है। उन्होंने कहा कि धर्म के आधार पर देश का बंटवारा नहीं किया जाना चाहिए।

भोपाल: बीजेपी विधायक (BJP MLA) नारायण त्रिपाठी (Narayan Tripathi) फिर पार्टी लाइन से हटकर बोल रहे हैं। उन्होंने नागरिकता संसोधन कानून (CAA) का विरोध किया है. त्रिपाठी ने कहा, “ये मेरे दिल की आवाज़ है कि धर्म के आधार पर देश को नहीं बांटो.” बता दें, ये वही बीजेपी विधायक हैं, जिन्होंने कुछ माह पूर्व विधानसभा में दंड विधान संशोधन विधेयक पर कांग्रेस सरकार के पक्ष में वोटिंग की थी।

CAA को लेकर देशभर में हो रहे विरोध और समर्थन के बीच बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी ने भी इसका विरोध कर दिया है। उन्होंने कहा कि धर्म के आधार पर देश का बंटवारा नहीं किया जाना चाहिए।

नारायण त्रिपाठी ने कहा कि आज लोग गांव में एक दूसरे की तरफ देख तक नहीं रहे हैं. हम वसुधैव कुटुम्बकम् की बात करते हैं। लेकिन धर्म के नाम पर बंटवारा किया जा रहा है, ये गलत है। इस सवाल के जवाब में कि आप अपनी ही पार्टी की लाइन से हटकर बोल रहे हैं, नारायण त्रिपाठी ने कहा कि ये उनके दिल की आवाज़ है।

ऐसा पहली बार नहीं है, जब नारायण त्रिपाठी ने बीजेपी के लिए मुश्किल खड़ी की हो। इससे पहले बीते साल जुलाई में मॉनसून सत्र में उन्होंने एक विधेयक पर मत विभाजन के दौरान कांग्रेस का दामन थाम लिया था। वोटिंग के दौरान बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी और शरद कोल ने क्रॉस वोटिंग करते हुए कांग्रेस का समर्थन किया था। उस दौरान त्रिपाठी ने बीजेपी नेताओं को जमकर खरी खोटी सुनाई थी। मैहर से बीजेपी विधायक नारायण त्रिपाठी दल बदलने के लिए जाने जाते हैं. बीजेपी में शामिल होने से पहले वो समाजवादी पार्टी में थे।