Home > India > गोवा के बाद मणिपुर भी बीजेपी की सरकार, बीरेन सिंह लेंगे CM की शपथ

गोवा के बाद मणिपुर भी बीजेपी की सरकार, बीरेन सिंह लेंगे CM की शपथ

इंफाल : गोवा के बाद भाजपा अब मणिपुर में भी भाजपा की सरकार बनने जा रही है। पार्टी ने राज्य में किसी तरह बहुमत का जुगाड़ कर लिया है और बुधवार 1 बजे बीरेन सिंह राज्य के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगे। उनके शपथ लेने के बाद ही पहली बार होगा की उत्तर-पूर्व के किसी राज्य में भाजपा की सरकार बनेगी। इस मौके पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह रोड शो भी करेंगे।

बता दें कि विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद कांग्रेस को 28 सीटें मिली थीं और वो सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी लेकिन भाजपा ने यहां भी दांव मारते हुए 23 सीटें होने के बावजूद 60 सीटों की विधानसभा में बहुमत के लिए जरूर 31 विधायकों का आंकड़ा पा लिया।

56 साल के एन बीरेन सिंह बुधवार को राज्य में बीजेपी की अगुवाई में बनने वाली सरकार के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। मजे की बात यह है कि बीरेन कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार में मंत्री पद संभाल चुके हैं। पिछले साल अक्‍टूबर में ही वे कांग्रेस से इस्‍तीफा देकर बीजेपी से जुड़े थे। बीरेन ने फुटबॉल के मैदान से सियासत के मैदान तक का सफर तय किया है। वे राष्ट्रीय स्तर के फुटबॉलर रह चुके हैं. बाद में उन्होंने पत्रकारिता को करियर बनाया। 2002 में उन्होंने अपने राजनीतिक सफर की शुरुआत क्षेत्रीय पार्टी, डेमोक्रेटिक पीपुल्स पार्टी से जुड़कर की। वे राज्य की हेनगांग विधानसभा सीट से विधायक चुने गए। वर्ष 2004 के विधानसभा चुनाव से पहले इस पार्टी का विलय कांग्रेस पार्टी में हो गया। वर्ष 2007 और 2012 में हुए चुनाव में भी वे अपनी सीट बरकरार रखने में सफल रहे। बीरेन मंत्री के रूप में राज्‍य के कई विभागों का कार्यभार संभाल चुके हैं। बीरेन एक समय मणिपुर के निवर्तमान मुख्यमंत्री इबोबी सिंह के खास सहयोगी थे।

वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में भी बीरेन हेंनगांग सीट से चुनाव जीते हैं। उन्होंने तृणमूल कांग्रेस के पांगीजम सरतचंद्र सिंह को शिकस्‍त दी है। 60 सदस्यीय मणिपुर विधानसभा में कांग्रेस ने 28 और भाजपा ने 21 सीटें जीती हैं। दोनों बहुमत से दूर हैं. लेकिन अन्य छोटे दलों, एक निर्दलीय और कांग्रेस के एक विधायक के समर्थन से भाजपा ने 32 विधायकों का समर्थन जुटा लिया है, जो सरकार गठन के लिए पर्याप्त है. बीजेपी विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद बीरेन ने कहा, ‘मैं पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी नेतृत्‍व को धन्यवाद देता हूं। मैंने कांग्रेस सरकार के कुशासन का विरोध करते हुए इस पार्टी को छोड़ा था. मैं आश्‍वस्‍त करता हूं कि पीएम मोदी के मार्गदर्शन में राज्‍य में हमारी सरकार अच्‍छा शासन देगी। ‘
भाजपा ने किसी तरह एनपीपी के 4, एमपीएफ के 4, एलजेपी के 1 और दो अन्य विधायकों को अपनी तरफ कर लिया जिसके बाद उसके पास बहुमत हो आ गया। गोवा की तरह मणिपुर में भी भाजपा सरकार बनाने जा रही है और इसे लेकर कांग्रेस ने भाजपा पर विधायकों की खरीद फरोख्त का आरोप लगाया है।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com