Home > India > लूटेरी दुल्हन ने 11 विवाह रचाकर ठगा लाखों का माल

लूटेरी दुल्हन ने 11 विवाह रचाकर ठगा लाखों का माल

The newly married husband sold prices auctionइंदौर/नोएडा- अपनी कद-काठी और रंग से लड़कों को रिझाने वाली एमबीए पास युवती बेहद शातिर निकली। वह पहले मीठी बोली से लड़कों वालों को लुभाती। जब विवाह हो जाता तो फिर नशे की गोलियां खिलाकर उन्हें लूट लेती। एक-दो नहीं, बल्कि 11 दूल्हों के साथ विवाह रचाकर उनसे लाखों का माल ठगने वाली इंदौर की यह लड़की आखिरकार नोएडा में पुलिस के हाथ चढ़ी है।

उसने मध्यप्रदेश के अलावा, महाराष्ट्र के मुंबई-पुणे और केरल में कई दिव्यांग व तलाकशुदा युवकों को अपने जाल में फंसाया। इस गोरखधंधे में उसके साथ बहन और जीजा सहित तीन लोग शामिल है। इन्हें भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

कम समय में करोड़ों स्र्पया कमाने की चाह रखने वाली 25 वर्षीय ठग दुल्हन मेघा भार्गव इंदौर शहर के पॉश इलाके गोयल विहार, खजराना की रहने वाली है। मेघा ने एमबीए किया है। उसने इंदौर, महाराष्ट्र के पुणे-मुंबई, राजस्थान और केरल में पिछले तीन सालों 11 शादी की है। शादी के एक सप्ताह के अंदर ही ससुराल वालों को खाने में नींद की गोली देकर वह घर से ज्वेलरी और स्र्पए समेटकर भाग जाती थी।

इस तरह उसने लगभग एक करोड़ से ज्यादा की ठगी की। मेघा ने 11 में से आखिरी शादी केरल के त्रिवेन्द्रम में रहने वाले लॉरेंन जोसटिस से की थी। 10 दूल्हों की तरह लॉरेन और उसके परिवार को भी शादी के बाद खाने में नींद की गोलियां उन्हें खिलाई फिर घर से 15 लाख का माल बटोरकर फरार हो गई थी। लॉरेन के परिजन ने मामले की शिकायत पुलिस से की। केरल पुलिस सर्विलांस के माध्यम से उसकी तलाश कर रही थी। शनिवार को वह आम्रपाली जोर्डिक अपार्टमेंट सेक्टर 120 में पहुंची। जहां से मेघा को गिरफ्तार किया गया।

मध्यस्थ साइट पर ढूंढता था दूल्हा, बहन और जीजा करते थे प्लानिंग
मेघा से जब पूछताछ की तो पता चला कि उसके इस गोरखधंधे में बहन प्राची और जीजा देवेन्द्र शर्मा भी शामिल है। तीनों इंदौर के ही महेन्द्र बुंदेला के साथ मिलकर वारदात को अंजाम देते थे। बुंदेला की तलाश की जा रही है। जबकि तीन को पुलिस ने सूरजपुर कोर्ट में पेश किया। जहां से ट्रांजिट रिमांड पर केरल ले जाया गया।

पूछताछ में पता चला कि मेघा उसकी बहन प्राची और जीजा देवेंद्र ने जल्द पैसा कमाने के लिए लुटेरी दुल्हन बनने की योजना बनाई। महेंद्र शादी के लिए दुल्हे-दुल्हन ढूंढने का काम करता था। तीनों ने उससे संपर्क किया और फिर उसे अपनी गैंग में शामिल किया। बुंदेला साइट और परिचितों के माध्यम से दूल्हे ढूंढता था।

खासकर वह दिव्यांग व तलाकशुदा लड़कों को निशाना बनाते थे। इसके पीछे यह मकसद था कि ऐसे लोग खूबसूरत लड़की पाने की चाह में उनकी बातों में आ जाते थे। बुंदेला ने सबसे पहले मेघा की इंदौर में ही शादी कराई। जहां से वह 11.5 लाख रुपये की ज्वेलरी और नकदी लेकर भागी। फिर मुंबई में शादी की। जहां से 40 लाख का माल लेकर भागी। फिर पुणे में शादी की, जहां से 90 लाख का माल लेकर फरार हुई।

इनका कहना है

केरल पुलिस की पूरी मदद की जाएगी। इंदौर से जुड़े तथ्यों को जुटाकर लडकी ने जहां-जहां वारदात की है बाकि जांच एजेंसियों को सबूत सौंपे जाएंगे- अवधेश कुमार गोस्वामी, एसपी पूर्व




Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com