राहत भरी खबर: 80 जिलों में 14 दिन से कोरोना संक्रमण का कोई नया मामला नहीं

स्वास्थय मंत्रालय के संयुक्त सचिव ने बताया है, पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 1684 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं जिसके बाद देशभर में कुल मामलों की संख्या बढ़कर 23,077 हो गई है। अब तक 718 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं कल से आज तक 491 लोग ठीक हुए हैं, जिसके बाद ठीक होने वालों की कुल संख्या 4748 हो गई है। अब तक हमारा रिकवरी रेट 20.57 फीसदी है।

नई दिल्ली: देश कोरोना वायरस के मामले लगतार बढ़ रहे हैं। हालांकि इस बीच राहत की खबर ये है कि देश में 80 ऐसे जिले हैं, जहां बीते 14 दिन में कोरोना संक्रमण का कोई नया मामला सामने नहीं आया है। वहीं 15 जिले ऐसे हैं जहां 28 दिन से कोई नया केस नहीं आया है। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने शुक्रवार को गृह मंत्रालय के साथ साझा प्रेस वार्ता में ये जानकारी दी है।

स्वास्थय मंत्रालय के संयुक्त सचिव ने बताया है, पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 1684 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं जिसके बाद देशभर में कुल मामलों की संख्या बढ़कर 23,077 हो गई है। अब तक 718 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं कल से आज तक 491 लोग ठीक हुए हैं, जिसके बाद ठीक होने वालों की कुल संख्या 4748 हो गई है। अब तक हमारा रिकवरी रेट 20.57 फीसदी है। नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल के डायरेक्टर डॉ. सुजीत सिंह ने बताया है कि आज हमारा डबलिंग टाइम 9 दिन तक पहुंच गया है, ये दिखाता है कि जो महामारी तेज गति से फैल रही थी उस पर हम किस हद तक अपने प्रयासों से रोक लगा पाए हैं।

उन्होंने बताया कि हमने जिला स्तर से राज्य और केंद्र तक सर्विलांस सिस्टम बनाया है। अब तक 9 लाख 45 हजार लोग सर्विलांस में हैं। संयुक्त सचिव गृह मंत्रालय की संयुक्त सचिव पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने बताया है कि गृह मंत्रालय ने आपदा प्रबंधन अधिनियम के अंतर्गत 6 इंटर-मिनिस्ट्रियल सेंट्रल टीमों (IMCT) का गठन किया था। COVID19 की स्थिति को देखते हुए गृह मंत्रालय ने 4और IMCT का गठन किया है जो अहमदाबाद, सूरत, हैदराबाद और चेन्नई भेजी जा रहीं हैं। इससे पहले स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने जानकारी दी है कि देश में लगभग साढ़े 5 लाख टेस्ट हो चुका है लेकिन सबसे अच्छी बात ये है कि टेस्टिंग बढ़ाने के बावजूद भी हमारे पॉजिटिव केस की संख्या 3-4 फीसदी से ज्यादा नहीं बढ़ी है। मैं आपको बताना चाहता हूं कि आप सबके प्रयासों से हम अपने देश को तीसरे स्टेज पर जाने से बचा पाए हैं।