Home > Government Schemes > दमोह से बीना तीसरी रेल लाईन, इसी बर्ष होगा कार्य

दमोह से बीना तीसरी रेल लाईन, इसी बर्ष होगा कार्य

damoh to bina rail lines news

दमोह/ रेल्वे उपभोक्ता पखवाडा मना रहा है और इसके तहत हम जहां रेल उपभोक्ताओं को इससे संबधित जानकारी प्रदान कर रहे हैं तो वहीं दूसरी ओर अधिक से अधिक सुविधाओं को कैसे प्रदान किया जाये इस पर भी विचार कर रहे हैं। स्वच्छता की ओर भी हमारा विशेष ध्यान है पूर्व में भी हम इस ओर ध्यान देते थे परन्तु देश के प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी के विशेष आव्हान पर हमने इसकी गति को और अधिक तेज कर दिया है

यह बात पश्चिम मध्य रेल मंडल के जबलपुर डिवीजन के प्रबंधक अजय कुमार सिंह ने कही। रेल्वे प्लेटफार्म पर नव निर्मित वातानुकूलित उच्च श्रेणी यात्री प्रतिक्षालय में स्थानीय पत्रकारों से चर्चा करते हुये जहां इन्होने डिवीजन में किये गये रेल सुविधाओं के विस्तार एवं आगामी कार्य योजना के बारे में बतलाया तो वहीं दूसरी ओर पत्रकारों के प्रश्रों के उत्तर भी दिये।

इन्होने बतलाया कि गत एक बर्ष के दौरान हमने 5 नई एवं 38 विशेष गाडियों को चलाया। 6357 अतिरिक्त कोचों को विभिन्न गाडियों में लगाया। 138 यात्री हेल्प लाईन एवं 182 सुरक्षा हेल्पलाईन नम्बर प्रारंभ किया। 8 पीआरएस,6 यूटीएस एवं जेटीबीएस,42 एसटीबीएस की सुविधाओं को प्रारंभ किया। 4 नये प्लेटफार्म एवं 18 प्लेटफार्मो की उंचाई को बढाया। 14 स्टेशनों पर कवर शेड की सुविधा 7 नये प्रतिक्षालयों का निर्माण कराया। 20 रिटायरिंग रूमों में आन लाईन बुकिंग सेवा प्रारंभ की गयी। 6 एस्केलेटर एवं ओव्हर ब्रिज की सुविधा दी।

5 कोच गाईडेंस सिस्टम का विभिन्न स्टेशनों पर एवं 11 पर एलसीडी/एलईडी डिस्पले बोर्ड स्थिापित किये गये। 5 स्टेशनों पर पेपरलेस चार्टिंग डिस्पले बोर्ड,5 पर 6 नये रिफशमेंट रूम स्थिापित किये गये। 6 स्टेशनों पर पार्सल मेनेजमेंट सिस्टम लागू किया गया। 5 स्टेशनों पर साफ सफाई की निगरानी हेतु सीसीटीव्ही केमरे तथा 360 बायो टायलेट विभिन्न कोचों में लगाये गये। 1300 किमी टे्रक पर गतिसीमा बढायी गयी। 24 किमी नई रेल लाईन का निर्माण किया गया। 105 नये रोड अंडर ब्रिज बनाये गये तो 6 नई साईडिंग स्थिापित की गयी।

  प्रश्रों के उत्तर देते हुये पश्चिम मध्य रेल मंडल के जबलपुर डिवीजन के प्रबंधक अजय कुमार सिंह ने कहा कि एक बर्ष के अंदर कटनी-दमोह-बीना के मध्य नई तीसरी रेल लाईन को बनाने का कार्य प्रारंभ हो जायेगा। जब उनसे पूछा गया कि मलैया मील के समीप रेल्वे क्रासिंग पर होने वाली समस्या का दर्द स्वंय मंत्री जयंत मलैया ने अपने उद्बोधन में बयां किया है। क्या इसका समाधान की कोई योजना रेल अधिकारियों के पास है तो इन्होने भौगोलिक स्थिति का हवाला देते हुये कहा कि यहां ओव्हर एवं अंडर दोनो प्रकार के ब्रिज बनाने की समस्या है। जब पूंछा गया कि क्या यह माना जाये कि इस समस्या का कोई समाधान नहीं है लोगों को परेशान होते रहना पडेगा तो वह कुछ नहीं कह पाये।

 इस प्रतिनिधि के द्वारा पंूछने पर कि आपके अनुसार जबलपुर डिवीजन की आय में इस बर्ष 17 प्रतिशत की वृद्धि हुई है परन्तु दमोह में एक टे्रन चिरमिरि का समय बदल देने से दमोह पथरिया के मध्य 10 से 15 नई बसें चलने लगी क्या यहां आय में कमी नहीं आयी? जो पैसा रेल्वे को मिलता वह अब नहीं मिल पा रहा है तो इन्होने कहा कि पैसेंजर ट्रेने की आय से विशेष फर्क नहीं पडता। दमोह रेल्वे प्लेटफार्म के फुट ओव्हर ब्रिज के संक्रीर्ण होने पर होने वाली यात्रियों की असुविधा पर ध्यान आर्कर्षित कराने पर इन्होने एवं संबधित अधिकारी ने कहा कि चौडाई पर्याप्त है अभी मैने नहीं देखा कि कोई असुविधा होती है। माडल स्टेशन पर होने वाली सुविधाओं के संबध में पूंछने पर श्री सिंह ने कहा कि सुविधायें पर्याप्त हैं । एक प्रश्र के उत्तर में श्री सिंह ने कहा कि डिस्पले एवं कर्बड शेड को बढाया जा सकता है। 

 Report @ डा.एल.एन.वैष्णव

Facebook Comments

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .