फुटबॉल मैच विवाद पहुंचा पुलिस स्टेशन ! - Tez News
Home > India News > फुटबॉल मैच विवाद पहुंचा पुलिस स्टेशन !

फुटबॉल मैच विवाद पहुंचा पुलिस स्टेशन !

demo pic

demo pic

भायंदर- 25 जुलाई 2016 को मैक्सेस माल के पास स्थित ग्राउंड में कुछ युवक बच्चे फुटबॉल मैच खेल रहे थे, जिनके बीच कुछ झगड़ा और हाथापाई हुई और बाद में मामला रफा दफा हो गया।

लेकिन 28 जुलाई को कुछ पॉलिटिकल पहचान रखने वाली दीपा मेहता ने अपने बच्चे प्रतिक मेहता को लेकर भायंदर पुलिस स्टेशन में ऍफ़ आई आर लिखाया कि ऋषभ शर्मा, सय्यद, रमाकांत मिश्रा, सरफ़राज़ खान, अरबाज़ पटेल, मृदुल सिंह ने मिलकर दीपा मेहता के बच्चे को मारा और उनके बच्चे को काफी चोट और टाँके आये है।

उसके लिए टिम्बा हॉस्पिटल का मेडिकल भी लगाया और पुलिस ने तुरंत लगभग 9 पुलिस वालो के साथ मोबाइल वैन के साथ बच्चों को गिरफ्तार करने उनके घर पहुचे,लेकिन कोई मिला नहीं, जैसे की बच्चों के कोई क़त्ल कर दिया हो।यह कहना है ऋषभ शर्मा के पिता जतिन भुटा का।

बाद में उन्होंने सभी बच्चों की बेल करवाई। और उसके बाद उनका अहमदाबाद फ्लाइट से गया था, तो दीपा मेहता ने फिर पुलिस को बोला कि ऋषभ विदेश भाग गया और फिर उसकी जांच करने उनके(ऋषभ)घर पुलिसवाले पहुँच गए।ऋषभ शर्मा जब २ साल का था तब जतिन भुटा ने उसको गोद लिया था और अब वह 18 साल का है।

जतिन भुटा कहते है,” पुलिस वाले एक तरफ़ा कार्यवाही कर रहे है। यदि 25 जुलाई को जब किसी को चोट ही नहीं आयी तो 28 को पुलिस ने कैसे ऍफ़ आई आर दर्ज किया और पकड़ने के लिए इतनी बड़ी संख्या में पुलिस वाले कैसे और क्यों गए?क्या किसी का मर्डर होगया था या बच्चों ने कोई बड़ा अपराध किया था?

मुझे और मेरे वकील को पुलिस अधिकारी अनिल कदम मेडिकल की कॉपी तक देने को तैयार नहीं है? टिम्बा हॉस्पिटल वाले कहते है कि हमारे पास कोई रिकॉर्ड नहीं है। अब हमलोग दीपा मेहता के खिलाफ केस दर्ज करवाएंगे और कोर्ट में पुलिस और दीपा मेहता के खिलाफ केस करेंगे। दीपा मेहता सभी बच्चों के माँ बाप को कहती है कि मैं सभी को बदनाम कर दूंगी।

आखिर दीपा मेहता है कौन ? जिसे पुलिस वाले इतना सपोर्ट कर रहे है और एक तरफ़ा कार्यवाही कर रहे है। हमने और सरदार वल्लभभाई पटेल पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कल्पेशभाई पारेख ने मुख्यमंत्री और गृह राज्यमंत्री को पत्र लिखकर इस मामले में कार्यवाही करने की मांग की है।

सरदार वल्लभभाई पटेल पार्टी के मिडिया प्रभारी दिलीपभाई पटेल ने कहा,” भायंदर पुलिस स्टेशन हमेशा आम आदमी को नज़र अंदाज़ करती है। पैसे वालों और पॉलिटिकल लोगों के दबाव में काम करती है। क्या पुलिस उनकी नौकर है या आम जनता के लिए इन्साफ करने के लिए है?

हमारी पार्टी ने इसके लिए मुख्यमंत्री और गृहराज्यमंत्री को पत्र लिखा है। और यदि जल्दी ही उन्होंने इसपर कार्यवाही और जांच नहीं की तो हमारी पार्टी सभी जनता के साथ मिलकर मोर्चा निकालेगी।

दीपा मेहता के खिलाफ केस दर्ज हो और गलत ऍफ़ आई आर दर्ज करवाने के लिए और उनके दबाव में आकर जिन पुलिस अधिकारियों ने यह काम किया है उनको सज़ा दी जाय। जिससे लोगों का क़ानून और पुलिस पर विश्वास बना रहे।






loading...
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com