अशोक गहलोत ने पिछले हफ्ते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा और शिकायत की कि ऐसे समय में जब कोरोनोवायरस से निपटने पर ध्यान केंद्रित किया जाना चाहिए, भाजपा के नेता सरकारों को गिराने के लिए सौदे करने में व्यस्त हैं।

राजस्थान में बीते कई हफ्तों से सियासी उठापटक जारी है। डिप्टी सीएम सचिन पायलट की बगावत के बाद अशोक गहलोत सरकार पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं।

हालांकि मुख्यमंत्री ने भरोसा जताया है कि उनके पास बहुमत है। विधायकों की खरीद-फरोख्त को लेकर आरोप-प्रत्यारोप भी लगे है।

इस बीच राजस्थान के सियासी संकट पर आम आदमी पार्टी ने तंज कसा है। AAP के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने ट्वीट कर कहा कि लॉकडाउन के दौरान सिर्फ जरूरी चीजें बिकती रहेंगी जैसे विधायक।

AAP नेता संजय सिंह ने ट्वीट कर लिखा, ‘लॉकडाउन में सब बंद रहेगा, लेकिन ज़रूरी चीजें बिकती रहेंगी जैसे- शराब, विधायक, रेल, एयरपोर्ट, बैंक, सरकारी सम्पत्ति आदि…….’

बता दें कि आप नेता का यह पोस्ट उस समय आया है जब देश कोरोना से लड़ाई लड़ रहा है और विधायकों की खरीद-फरोख्त के आरोप लगाए जा रहे हैं।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भाजपा पर सरकार के तख्तापलट करने के लिए विधायकों को रिश्वत देने का आरोप लगाया है।

अशोक गहलोत ने पिछले हफ्ते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा और शिकायत की कि ऐसे समय में जब कोरोनोवायरस से निपटने पर ध्यान केंद्रित किया जाना चाहिए, भाजपा के नेता सरकारों को गिराने के लिए सौदे करने में व्यस्त हैं। भाजपा ने हालांकि इस तरह के सभी आरोपों का खंडन किया है।