BJP
श्रीनगर– भारतीय जनता पार्टी की जम्मू-कश्मीर इकाई ने सोमवार को कहा कि कट्टरपंथी हुर्रियत कांफ्रेंस के अध्यक्ष सैयद अली शाह गिलानी यदि अपनी बीमार बेटी से मिलने के लिए सऊदी अरब जाना चाहते हैं तो उन्हें यह स्वीकार करना चाहिए कि वह भारतीय है और उनको राष्ट्र-विरोधी गतिविधियों के लिए ‘माफी’ मांगनी चाहिए।

भाजपा प्रवक्ता खालिद जहांगीर ने यहां एक बयान में कहा, ‘गिलानी साहिब जब तक पिछले 25 वर्षों में की गयी गलतियों पर माफी नहीं मांग लेते उन्हें पासपोर्ट नहीं दिया जा सकता। पासपोर्ट भारतीय नागरिकों को जारी किया जाता है, उन्हें नहीं जो लोग भारत और उसके लोकतंत्र में यकीन नहीं करते।’ जहांगीर ने कहा यदि गिलानी साहिब पासपोर्ट चाहते हैं तो उन्हें सामान्य लोगों की भांति कानून का पालन करना होगा।

खालिद जहांगीर ने कहा यदि गिलानी यह स्वीकार करते हैं कि वह भारतीय हैं और भारत-विरोधी गतिविधियों में शामिल नहीं होंगे, फिर भारत सरकार पासपोर्ट के लिए उनके अनुरोध पर विचार कर सकती है।’ गिलानी ने अपनी बेटी से मिलने जाने के लिए पासपोर्ट मांगा है। उनकी बेटी सऊदी अरब के अस्पताल में गंभीर हालत में भर्ती हैं।

जहांगीर ने कहा भारत सरकार ऐसे व्यक्ति को पासपोर्ट नहीं दे सकती है जो उस देश के खिलाफ जहर उगलता हो, जहां वह रहता है और सभी आराम पाता है। एजेंसी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here