Home > Lifestyle > Health > Sex During Pregnancy – गर्भावस्था में संभोग के दौरान रखें इन 5 बातों का ध्यान

Sex During Pregnancy – गर्भावस्था में संभोग के दौरान रखें इन 5 बातों का ध्यान

live sexगर्भावस्था महिलाओं के लिए सबसे खूबसूरत दौर होता है। गर्भावस्था के दौरान बहुत से जोड़े संभोग करने से डरते हैं, लेकिन इसमें डरने की कोई जरूरत नहीं है। वास्तव में गर्भावस्था के दौरान संभोग लाभदायक होता है। क्‍योंकि गर्भावस्था के दौरान शरीर में शारीरिक और भावनात्मक दोनों तरह के बदलाव आते हैं।

गर्भावस्था के दौरान कभी-कभी सेक्‍स करना गलत नहीं है। लेकिन डॉक्‍टरों के अनुसार जब गर्भ में पल रहे बच्‍चे में किसी प्रकार के कॉम्‍प्‍लीकेशंस हों तो सेक्‍स करने से बचना चाहिए। इससे बच्‍चे के विकास पर असर पड़ता है। लेकिन यदि बच्‍चे का विकास सही है तो गर्भावस्‍था के तीन महीने पूरे होने पर सेक्‍स किया जा सकता है।

आइए जानें क्या गर्भावस्था में भी सेक्स लाभदायक है।
·गर्भावस्था में भी सेक्स लाभदायक होता है। क्‍योंकि गर्भावस्था के दौरान इंटरकोर्स करने से इंटिमेसी का अहसास भी बढ़ जाता है।

·गर्भावस्‍था के दौरान एक दूसरे को स्पर्श कर, चूम कर भी प्यार और ताजगी बनाई रखी जा सकती है। ऐसे में पति-पत्नी एक दूसरे को और ज्यादा नजदीक महसूस कर सकते हैं। जो एक-दूजे को ऐसे वक्त पर करीब रखने के लिए अहम साबित हो सकती हैं।

ये सिर्फ सुरक्षित ही नहीं बल्कि आपके लिए अच्छा भी है
प्रेगनेंसी के हर चरण पर सेक्स करना सुरक्षित ही होता है, लेकिन आपको हमेशा अपने डॉक्टर से इस बारे में सलाह ज़रूर लेनी चाहिए की कहीं आपके गर्भधारण को लेकर इससे कोई परेशानी तो नहीं होगीI अगर आपके पहले गर्भपात हुआ है, तो शायद आपका डॉक्टर आपको सलाह दे की प्रेगनेंसी के पहले चरण में, यानी पहले तीन महीनो तक आप सेक्स ना करेंI लेकिन अगर आपकी प्रेगनेंसी में कोई परेशानी नहीं है, तो आप प्रेगनेंसी के आखिरी चरण तक सेक्स कर सकते हैंI

और अपने बच्चे की चिंता ना करें: बच्चा माँ के गर्भ में बहुत अच्छे से सुरक्षित होता हैI योनि के अंदर लिंग डालने से उसको कोई नुक्सान नहीं पहुचताI हाँ ये ज़रूर है की सेक्स की कुछ मुद्राएं आपको कम्फर्टेबल ना लगे और ये भी ह्यां रखना ज़रूरी है की आपके पेट पर किसी भी तरह का दबाव ना पड़ेI
जी हाँ, प्रेगनेंसी के दौरान सेक्स आपके लिए और आपके बच्चे के लिए अच्छा भी साबित हो सकता हैI इससे आपको कामुक आनंद तो मिलता ही है और शरीर की कसरत भी होती है जिससे आपके एंडोर्फिन भी स्रावित होता है आपके खून में औ आपको बहुत अच्छा और खुशनुमा महसूस करता हैI और ये भावनाएं आपके बच्चे तक भी पहुचती हैंI

और अगर आपका बच्चा जल्द ही आने वाला है तो सेक्स शायद आपको लेबर के लिए भी तैयार करता है, क्यूंकि ओर्गास्म आपके गर्भाशय को सिकुड़ने में मदद करता है जो की लेबर के दौरान काम आता हैI और पुरुष का वीर्य में एक हार्मोन होता है जिसे प्रोस्टाग्लेडिन कहते हैं, और ये गर्भाशय ग्रीवा को मुलायम बनाता है और लेबर के दौरान सिकुड़न में मदद भी करता हैI

सेक्स मुद्रा ज़रूरी है
जैसे- जैसे आपकी प्रेगनेंसी आगे बढ़ती है और आपके शरीर में बदलाव आते हैं, तो आपके सबसे पसंदीदा सेक्स मुद्राएं शायद आपके लिए सही और कम्फर्टेबल साबित ना होंI ऐसी सेक्स मुद्राएं जो की आपके पेट पर वज़न डालती हैं वो आपके लिए दर्दनाक साबित हो सकती हैंI लेकिन आप रचनात्मक बनिए और कुछ नयी मुद्राएं करने की कोशिश करियेI नयी मुद्राएं करिये और मदद के लिए तकियों का इस्तेमाल भी करियेI कोई भी मुद्रा जो की महिला को नीचे की तरफ रखेगी वो प्रेगनेंसी के दौरान तकलीफदेह साबित हो सकती हैI एक दूसरे के बगल की सेक्स मुद्रा इस्तेमाल कर सकते हैं और या जिसमे महिला ऊपर होI

प्रेगनेंसी के हर चरण पर सेक्स मुद्राएं भी बदलनी ज़रूरी होंगीI इसके साथ-साथ आपको कोई लुब्रिकेंट यानी चिकनाई पदार्थ का इस्तेमाल भी करना पड़ेगा – क्यूंकि प्रेगनेंसी के दौरान कभी-कभार प्राकर्तिक चिकनाई नहीं आ पातीI

इच्छाओं का उतार-चढ़ाव
प्रेगनेंसी के दौरान, दोनों माता और पिता की कौमुक इच्छाओं में उतार-चढ़ाव आना नार्मल हैI कुछों की कामुक इच्छाएं ज़ोर-शोर पर होती हैं और कुछ लोगों की बिलकुल दबी हुईI कुछ महिलाओं का सेक्स करने का बिलकुल मन नहीं करता – क्यूंकि उन्हें यह भी लगता है की कही बच्चे को कोई नुक्सान ना पहुंचे या कहीं जल्द ही लेबर का दर्द ना शुरू हो जाये, और कुछों के लिए हार्मोन के बदलाव सेक्स इच्छा को बहुत बढ़ा देते हैंI कई बार, प्रेगनेंसी के पहले चरण के दौरान, बहुत सारी महिलाएं कमज़ोरी और अनकम्फर्टेबल महसूस करती हैंI

इस दौरान उनका मन भी बहुत मिचलित होता हैI और प्रेगनेंसी के दूसरे चरण में, महिलाओं को उनके हार्मोन इन एकदम से बढ़ोतरी महसूस होती है जिससे उनकी सेक्स इच्छा बढ़ जाती हैI प्रेगनेंसी के आखिरी चरण में, पेडू के आस-पास के हिस्से में रक्त संचालन बढ़ जाने से, और गर्भनिरोधन की कोई चिंता ना होने के कारण से, और शरीर के कई भाग जैसे की स्तन ज़्यादा संवेदनशील हो जाने की वजह से कामुक इच्छाएं बढ़ जाती हैंI और इसी दौरान, पुरुष का अपने महिला साथी के कुछ हिस्सों के बढ़ जाने की वजह से, (जैसे की स्तन) उनकी कामुक इच्छा का बढ़ जाना भी नार्मल हैI

बात-चीत ज़रूरी है
सेक्स के दुअरान और प्रेगनेंसी के दौरान भी सबसे ज़्यादा ज़रूरी है खुल कर बात-चीत करनाI अपनी भावनाओं को छुपाइये मत और आपके मन में सेक्स को लेकर जो भी विचार आते हैं वो अपने साथी को बताइयेI और हाँ, अपने साथी को भी अपने मन की बात, कोई डर, कोई दबाव महसूस करने के बारे में बात करने के लिए प्रेरित करियेI अगर आप दोनों को एक दूसरे के सेक्स इच्छा को लेकर कुछ बदलाव महसूस होते हैं तो वो नार्मल है और इस बारे में खुल कर बात करना बहुत ज़रूरी हैI

सेक्स के दौरान भी इस बात पर ध्यान दीजिये की आपके साथी को क्या अच्छा लग रहा है और क्या नहींI आप पूछ सकते हैं: क्या तुम्हारे लिए ये सेक्स मुद्रा कम्फर्टेबल है? क्या तुम्हे बच्चे को नुक्सान पहुचने की चंता है? क्या हम कुछ और मुद्रा ट्राय करें?

अगर आपके डॉक्टर ने आपको सेक्स करने के लिए मन किया है, तो दूसरे और तरीके भी हैं आपस में कामुक होने के लिएI मुखमैथुन इसमें से एक तरीका है लेकिन याद रहे अपनी योनि में हवा ना फूकने देंI एक आपके खून में बुलबुला बन सकता है जो की आपके और आपके बच्चे के लिए खतरनाक साबित हो सकता हैI आप दोनों साथ में रोमांटिक सैर, एक दूसरे को मालिश करने का और साथ में फिल्म देखने का मज़ा भी ले सकते हैंI

सेक्स से परहेज़ कब करें
वो युगल जिनका पहले कभी गर्भपात हुआ है, या किसी और तरह की प्रेगनेंसी से जुडी परेशानी, उन्हें डॉक्टर सेक्स ना करने की सलाह दे सकते हैं, वो भी अधिकतर प्रेगनेंसी के पहले चरण मेंI इस चरण में, बच्चे के विकास में बहुत सारे बदलाव आ रहे होते हैंI इसलिए इस समय सावधानी बरतना बहुत ज़रूरी हैI इसी तरह से डॉक्टर शायद आपको प्रेगनेंसी के अक्कहिरी चरण में भी सेक्स ना करने की सलाह देंI इससे शायद इन्फेक्शन होने की सम्भवना भी बढ़ सकती हैI

आपको सेक्स के लिए तब भी मना किया जा सकता है जब आपकी गर्भनाल में प्रॉब्लम होI और अगर आपकी गर्भस्य ग्रीवा भी फैली हुई है तो भी इन्फेक्शन के डर के कारण आपको सेक्स से परहेज़ करने के लिए कहा जा सकता हैI

तो प्रेगनेंसी के दौरान सेक्स करने में कोई परेशांनी नहीं है, लेकिन आपकी गर्भावस्था को लेकर इस बारे में डॉक्टर से सलाह लेना बहुत ज़रूरी हैI अगर आपका डॉक्टर आपको सेक्स करने के लिए किन्ही कारणों से मन करे तो इसको अच्छे से समझाइये और इसका पालन भी करियेI हर एक की गर्भावस्था लग होती है और इसलिए उसी जुडी ज़रूरतें और परहेज़ भीI इनका पालन करने से आप स्वस्थ्य और सुरक्षित प्रेगनेंसी का मज़ा ले सकते हैंI [एजेंसी]




Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com