मेरे पास बहुत पैसा, दो बीवियां रखूंगा - Tez News
Home > India > मेरे पास बहुत पैसा, दो बीवियां रखूंगा

मेरे पास बहुत पैसा, दो बीवियां रखूंगा

भोपाल: मध्यप्रदेश महिला आयोग की सुनवाई में ‘पति-पत्नी और वो” का प्रकरण सुर्खियों में रहा। राजधानी की टीना मुखर्जी ने आयोग अध्यक्ष लता वानखेड़े को बताया कि पति कहता है ‘मेरे पास पहुत पैसा है दो बीवियां रख सकता हूं।” उसकी प्रेमिका के कारण घर का अमन-चैन गायब हो गया। पति शराब पीकर मारपीट भी करता है। आयोग ने दोनों को समझाइश देकर 15 दिन साथ रहने के निर्देश दिए। पति ने अवैध संबंधों की बात स्वीकार कर ली।

करोंद निवासी पीड़ित महिला टीना ने रोते हुए अपनी दास्तान सुनाई। उसने बताया कि शादी के 11 साल हो गए तीन बच्चे भी हैं लेकिन पति दवा दुकान में काम करने वाली एक लड़की के चक्कर में है। दोनों एक दूसरे को अश्लील मैसेज करते हैं, आपत्ति की तो उसने मारपीट कर घर से निकाल दिया।

आयोग ने पति से पूछताछ की तो उसने अवैध संबंधों की बात मान ली, दवा बाजार में उसकी दुकान है। दुकान में काम करने वाली लड़की से उसके संबंध हैं। पत्नी इन दिनों अपने पिता के घर रहती है, उसेे कोई गुजारा भत्ता भी नहीं मिल रहा। उसने बताया कि जनवरी में इस मुद्दे पर थाने में शिकायत भी की थी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। आयोग ने फिलहाल दोनों को 15 दिन साथ में रहने की समझाइश दी है।

शादी के 3 दिन बाद ही पिटाई

अंबाह पोरसा निवासी रेनु कुशवाह ने आयोग को बताया कि उसका पति अवनीश प्रताप सिंह पुत्र अशोक सिंह दहेज के लिए मारपीट करता है। ससुर अशोक सिंह पुलिस में सहायक उप निरीक्षक हैं इसलिए महिला थाना ने उसकी शिकायत भी नहीं लिखी। अपने भाई के साथ आई रेनु ने आयोग को बताया कि शादी के तीसरे दिन ही उसकी पिटाई में उसके दांत टूट गए थे। तीन साल पहले शादी हुई थी, उसके पिता अब तक लाखों रुपए का दहेज दे चुके हैं। उसने बताया कि उसे संदेह है कि उसका पति पहले शादी कर चुका है इसकी जांच कराई जाए।

श्रीराम कालेज की शिकायत

राजधानी के श्रीराम कालेज के खिलाफ भी शिकायत की गई है जिसमें नौकरी से निकाली गई टीचर ने बताया कि उसे नए बच्चों को ढूंढकर एडमिशन कराने को कहा जा रहा था। एडमिशन नहीं हो पाने पर वेतन रोक लिया। एक प्रकरण मकान मालिक-किराएदार विवाद भी था।

किसान आंदोलन केे चलते पुलिस के जरिए आयोग के समन तामील नहीं हो पाए जिससे 33 में से कुल 3 फरियादी ही पहुंचे। आयोग की अध्यक्ष वानखेड़े ने बताया कि जिन्हें फोन से सूचना मिली वही पहुंचे। 5 नई शिकायतों पर भी सुनवाई की गई।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com